गुरू तेगबहादुर म्यूजियम से मिलेगी शहर को पहचान: शर्मा

भोपाल, 10 अप्रैल। झीलों की नगरी भोपाल को एक ओर पहचान मिलने जा रही है। यह पहचान गुरू तेगबहादुर म्यूजियम से होगी। देश के बलिदानी गुरू तेगबहादुर के नाम पर शहर के इदगाह हिल्स पर नगर निगम जल्द ही म्यूजियम बनाने जा रहा है। इस बजट में म्यूजियम के लिए प्रावधान किया गया है।
इस घोषणा के लिए सोमवार को शहर के सिख समाज ने महापौर आलोक शर्मा का भोपाल की चौपाल में पहुंचकर आभार व्यक्त किया। वहीं शहर की बड़ी संख्या में महिलाएं भी पहुंची और उन्होंने महिला सुरक्षा के लिए महापौर आलोक शर्मा द्वारा लिए गए ऐतेहासिक निर्णय का स्वागत किया।
नए वित्तीय बजट में महापौर आलोक शर्मा ने शहर के अलग अलग स्थानों पर महिला सुरक्षा के लिए महिला पुलिस सहायता केंद्र बनाने का निर्णय लिया है। महिला पुलिस सहायता केन्द्र में पुलिस हर समय महिलायों की सुरक्षा के लिए मौजूद रहेगी। सोमवार को आयोजित भोपाल की चौपाल में सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक शहर के अलग-अलग क्षेत्रों से आए नागरिक अपनी शिकायतें लेकर पहुंचे। इस दौरान सिख समाज सहित बड़ी संख्या में महिलाएं भी पहुंची और महापौर आलोक शर्मा को पुष्प भेंट कर उनका आभार भी व्यक्त किया। चौपाल में नगर निगम आयुक्त प्रियंका दास सहित अपर आयुक्त एमपी सिंह, प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, उपायुक्त हरीश गुप्ता, बड़ी भूमकर और सभी विभागों के प्रमुख मौजूद रहे। सोमवार को महापौर निवास पर आयोजित भोपाल की चौपाल में महापौर आलोक शर्मा ने शहर के अलग-अलग इलाकों से आए नागरिकों की समस्याओं को विस्तारपूर्वक सुना और संबंधित विभाग के अधिकारियों को तुरंत बुलाकर समस्या का निराकरण करने के लिए निर्देश दिए।
इस दौरान निगम आयुक्त प्रियंका दास भी पूरे समय मौजूद रहीं। सुबह 8 बजे से शुरू हुई चौपाल में करीब 116 शिकायती आवेदन आए। जिस पर कार्रवाई के लिए तुरंत महापौर श्री शर्मा ने आदेश दिए। वहीं चौपाल के अंत में निगम के 23 कर्मचारियों को विनियमितिकरण के आदेश दिए गए। आदेश प्राप्त होने पर कर्मचारियों ने महापौर आलोक शर्मा को धन्यवाद देते हुए निगम का आभार व्यक्त किया।
भोपाल की चौपाल में कई रहवासी संघ महापौर आलोक शर्मा को धन्यवाद ज्ञापित करने पहुंची। पिछली चौपालों में रहवासी संघों और नागरिकों ने अपनी शिकायतें बताई थी, जिनके निराकरण समय पर होने पर नागरिकों ने पुष्प माला पहनाकर महापौर को धन्यवाद दिया। चौपाल के दौरान महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि नगर निगम के नए बजट में अलग से चौपाल के लिए 5 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
जिससे चौपाल में ही छोटे-छोटे कामों को मंजूरी दी जा सके। वहीं महापौर श्री शर्मा ने कहा कि जल्द ही अब ऐसी चौपाल लगेगी, जिसमें समस्याओं के निरकारण होने पर चर्चा होगी। इसका नाम समाधान चौपाल होगा।