निर्वाचन के हर कार्य को गंभीरता पूर्वक करें अधिकारी: खाडे

भोपाल, 23 अगस्त। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सुदाम खाडे ने निर्देश दिए हैं कि सभी रिटर्निंग आफिसर अपने विधानसभा क्षेत्र के निर्वाचन हेतु आई.टी. मास्टर ट्रेनर, राजस्व, अन्य योग्य अधिकारी तथा कर्मचारियों की टीम बना लें ताकि उन्हें निर्वाचन कार्यों में कोई कठिनाई नहीं हो।
उन्होंने कहा कि विधानसभा का डिजिटल मेप, क्रिटिकल पोलिंग बूथ, बूथ लेवल एजेन्टों की सूची, बूथवार आवश्यकताओं आदि का चिन्हांकन शीघ्र करें यह अत्यंत आवश्यक है। डॉ. खाडे ने कहा कि सभी रिटर्निंग आफिसर मान्य राजनैतिक दलों के साथ बैठकें करें। इस प्रक्रिया से निष्पक्ष निर्वाचन सम्पन्न कराने में सहयोग मिलता है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी निर्वाचन के हर कार्य को गंभीरता पूर्वक करें।
कलेक्टर ने कहा कि दिव्यांग और वृद्ध मतदाताओं के लिए सुविधाएं निर्वाचन प्रक्रिया की प्राथमिकता है, इनकी सम्पूर्ण जानकारी होने पर हम समुचित व्यवस्थाओं का लाभ दे सकेंगे और उद्धेश्य की पूर्ति होगी। उन्होंने कहा कि घर से घर तक के लिए एक टीम बनाकर भी कार्य किया जा सकता है। कलेक्टर ने कहा कि जनसंख्या के मान से महिला – पुरूष तथा आयु आधारित औसत पोलिंग बूथवार होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि इस कार्य को गंभीरता से लें और शीघ्र पूरा करें। उन्होंने महिला बाल विकास, सामाजिक न्याय के वसतिगृह और आश्रमों में निवास कर रहे लोगों तक पहुंच बनाकर उनके मतदाता कार्ड बनाने तथा मतदान के लिए प्रेरित करने के निर्देश अधिकारियों
को दिए।
बैठक में सीईओ जिला पंचायत हरजिंदर सिंह, अपर कलेक्टर जे.पी.सचान, भोपाल जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के रिटर्निंग आफिसर तथा निर्वाचन कार्य से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे ।