अजेय भारत-अटल भाजपा

नई दिल्ली, 10 सितंबर। भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के आखिरी दिन रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी।
नरेंद्र मोदी ने अजेय भारत-अटल भाजपा का नारा दिया। उन्होंने कहा- भारत कभी भी किसी के वशीभूत नहीं हुआ और भाजपा अपने सिद्धांतों पर ही चलेगी। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा, अटल जी ने भाजपा के विचार, संस्कार और भाजपा के नेतृत्व को एक नई ऊंचाई दी। आज हमारा सूरज तो चला गया लेकिन हम जो सितारें हैं वो चमककर इस विचारधारा के प्रकाश को आगे ले जाएं। हम सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखते बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझते हैं।
विपक्ष के पास न नेता, न नीति
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि महागठबंधन के पास न तो कोई नेता और और न ही नीति। इसलिए विपक्ष बुरी तरह से हताश हो चुका है। उनका एकमात्र एजेंडा केवल मोदी को रोकने का है।

मोदी के सहारे ही 2019 की लड़ाई लड़ेगी भाजपा: शाह
विपक्ष के गठबंधन को झूठ, ढकोलसा और भ्रांति आधारित बताते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार के काम की फैली खुशबू और दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करिश्माई नेतृत्व की बदौलत 2019 के लोकसभा चुनाव में और बड़ी जीत हासिल करने का दावा किया है।
विपक्षी महागठबंधन से चिंतित न होने का आह्वान करते हुए शाह ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि भाजपा बीते लोकसभा चुनाव में इसमें शामिल सभी दलों को हरा कर सत्ता में आई है। इस दौरान शाह ने सरकार की उपलब्धियों के तथ्य के साथ सामने रखने और विरोधियों को खुली बहस की चुनौती देने का भी आह्वान किया। विस्तार वाले राज्यों पर निगाह
शाह ने कहा कि पार्टी जिन राज्यों में सत्ता में है, वहां लोकसभा चुनाव में सुखद परिणाम आएंगे। यहां हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि पार्टी पश्चिम बंगाल, ओडि़शा, तेलंगाना जैसे राज्यों में नंबर दो पर है। यहां सत्ता विरोधी लहर हमें व्यापक लाभ पहुंचा सकती है। आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में पार्टी की परीक्षा नहीं हुई है। पार्टी यहां भी बेहतर प्रदर्शन करेगी।