तेलंगाना: बस ३० फीट गहरी खाई में गिरी, ५२ की मौत

हैदराबाद, १२ सितंबर। तेलंगाना में एक बड़ा बस हादसा हुआ है। इस हादसे में कम से कम ५२ लोगों की मौत हो गई है। जगतियाल जिले में सड़क परिवहन निगम की बस घाटी में गिर जाने से दुर्घटना का शिकार हो गई। बस कोंडागट्टू से जगतियाल लौट रही थी। बस शानिवारपेट गांव के नजदीक घाट रोड पर फिसल गयी और घाटी में गिर गयी। बस में ५५ यात्री सफर कर रहे थे। बस ३० फीट गहरी घाटी में गिरी, जिसमें मौके पर ही २३ लोगों की मौत हो गई और बाकियों को अस्पताल ले जाया गया, जिसमें से कुछ की इलाज के दौरान मौत हो गई। तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने मृतकों के परिवार के सदस्यों को ५ लाख रुपए देने की घोषणा की है।
एसपी जगतियाल सिंधु शर्मा ने कहा, अब तक ५२ लोग मारे गए हैं। घायल लोगों को पास के सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। बचाव कार्य चल रहा है।
राजस्व विभागीय अधिकारी जी नरेंद्र ने कहा कि चश्मदीदों ने मुझे बताया कि ड्राइवर एक स्पीड ब्रेकर पर ब्रेक लगाने में विफल रहा और बस एक ऑटोरिक्शे से टकरा गई। मोड़ के करीब, बस की गति ज्यादा थी। इसी दौरान यात्रियों ने चीखना शुरू कर दिया। ड्राइवर ने बस की गति को धीमा करने के प्रयास किए। ड्राइवर भी यात्रियों से चिल्लाते हुए कहा कि कुछ गलत है। दुर्घटना में लोगों के मारे जाने पर दुख व्यक्त करते हुए तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष एन उत्तम कुमार रेड्डी ने मृतकों के परिवार को १०-१० लाख रुपया मुआवजा देने की मांग की है।
बस दुर्घटना पर मोदी ने जताया शोक: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तेलंगाना के जगतियाल जिले में मंगलवार को बस दुर्घटना में ४५ यात्रियों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है। राज्य परिवहन निगम की इस बस के अनियंत्रित होकर गहरी घाटी में गिर जाने के कारण बच्चों और महिलाओं समेत ४५ यात्रियों की मौत हो गयी और कई घायल हो गए। श्री मोदी ने ट्विट कर कहा यह दुर्घटना गहरा दुख पहुंचाने वाली है, जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता।