शिवराज के प्रति महिलाओं का बढ़ा आकर्षण, 80 प्रतिशत सरकार के साथ

भोपाल, 19 सितंबर। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की महिलाओं की आत्मनिर्भरता बढ़ाने संबंधी निर्णयों और महत्वाकांक्षी योजनाओं से लगभग 80 फीसदी महिला आबादी का मध्यप्रदेश में आत्मविश्वास बढ़ा है। प्रदेश की महिलाओं को आर्थिक सुरक्षा प्रदान कर उन्हें समृद्ध बनाना शिवराज सिंह चौहान की उपलब्धि ही कही जाएगी। शिवराज सरकार के प्रति बढ़ते आकर्षण का जीता-जागता उदाहरण है कल रायसेन जिले के सिलवानी विधानसभा क्षेत्र में स्व-सहायता समूह की महिला कार्यकर्ताओं के उमड़ते सैलाब को देखकर लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह का भाव-विभोर हो जाना। वाकया है सोमवार को हजारों की संख्या में रामपाल सिंह के विधानसभा क्षेत्र सिलवानी में स्व-सहायता समूहों के महिलाओं ने एक बड़ा सम्मेलन किया, जिसमें 20 हजार से अधिक महिलाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इस मौके पर लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह इतने भावुक हो गए कि उन्होंने यहां तक कह दिया कि शिवराज सरकार महिलाओं की सुरक्षा एवं आत्मनिर्भरता के लिए अपनी जान लगाने को तैयार है, बस चौथी बार फिर से हमारे लोकप्रिय जन-जन के नेता शिवराज सिंह चौहान के फैसलों को शिवराज सरकार की अच्छे कामों की सफलता पर मुहर लगाकर उन्हें मुख्यमंत्री बना दीजिए।
उल्लेखनीय है कि हाल ही में सरकार ने निर्णय लिया कि प्रदेश की स्व-सहायता समूह की महिलाओं को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए विभिन्न विभागों की योजनाओं से उन्हें जोड़ा जाए। इनमें स्व-सहायता समूह की महिलाओं से पूरक पोषण आहार बनाने, गणवेश तैयार करने सहित अनेक कार्य शामिल है। प्रदेश के कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग द्वारा प्रदेश के स्व-सहायता समूह की महिलाओं को विशेष प्रशिक्षण देकर उन्हें जूट, पेपर बैग, हस्तशिल्प एवं हस्त कारीगरी से जोड़कर मार्केट लिकेंज से माध्यम से उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की इस पहल को उनके मंत्रीगण भी आत्मसात कर रहे हैं। प्रदेश के लोक निर्माण विभाग मंत्री रामपाल सिंह ने रायसेन के बेगमगंज क्षेत्र में महिलाओं का बड़ा और भव्य स्व-सहायता समूह सम्मेलन का आयोजन कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उस अपील को आगे बढ़ाया है, जिसमें मुख्यमंत्री अपने प्रदेश की बहन-बेटियों को आर्थिक रूप से सक्षम देखना चाहते हैं। मंत्री रामपाल सिंह की इस पहल को महिलाओं ने भी सराहा और स्व-सहायता समूह के इस आयोजन में बढ़-चढ़कर भाग लिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रामपाल सिंह राजपूत ने महिला समूह सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार मातृशक्ति को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, ताकि महिलाएं आत्मनिर्भर हो सकें। देश की रक्षा करने व आजादी दिलाने में मात्र शक्ति की विशेष भूमिका महत्वपूर्ण रही है शक्ति स्वरूपा ममतामयी माता के अच्छे संस्कारों से ही बच्चे के उज्जवल भविष्य की नींव रखी जाती है। आज मातृशक्ति एवं बेटियां सराहनीय कार्य कर रही हैं, आज बेटियों के हाथों में डंडा है और वह बड़े-बड़े गुंडों को सीधा कर रही हैं। हमारे भारतीय समाज में नारी को देवी शक्ति माना गया है हमारे ग्रंथों में भी नारी को पूजनीय बताया गया है। ईश्वर ने भी नारी को एक जननी के रूप में इस धरती (शेष पेज 9 पर)