लंदन में छिन सकती है विजय माल्या की हवेली

मुंबई, 23 अक्टूबर। भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की मुश्किलें बढऩे वाली हैं। स्विस बैंक यूबीएस एजी ने माल्या, उसकी मां और उसके बेटे को रेजेन्ट पार्क स्थित करोड़ों की हवेली से निकालने के लिए कोर्ट का रुख किया है। बैंक ने प्रॉपर्टी पर कब्जे के लिए हाई कोर्ट में अपील की है।
24 अक्टूबर को होगी सुनवाई
खबरों के अनुसार हवेली को गिरवी रखकर लोन लिया गया था जिसे समय बीत जाने के बाद भी चुकाया नहीं गया है। रोज कैपिटल वेंचर्स लिमिटेड कंपनी, विजय माल्या, उसकी मां ललिता माल्या और बेटे सिद्धार्थ माल्या के खिलाफ इस केस की सुनवाई 24 अक्टूबर को होगी। रोज कैपिटल वेंचर्स लिमिटेड ने यूबीएस से इस प्रॉपर्टी के ऐवज में 2.04 करोड़ पाउंड (195 करोड़ रुपए) का लोन लिया था।
बैंक ने कोर्ट में की अपील
यूबीएस का कहना है कि लोन की समयसीमा खत्म हो जाने के बाद माल्या परिवार से प्रॉपर्टी को खाली करने के लिए कहा गया है लेकिन उसने बाहर जाने से इनकार कर दिया है। इस प्रॉपर्टी को रोज कैपिटल ने 3 अक्टूबर 2005 को 54 लाख पाउंड (करीब 52 करोड़ रुपए) में खरीदा था। इस प्रॉपर्टी का फ्री होल्ड अधिकार क्राउन एस्टेट के पास है। बैंक ने कोर्ट से बकाया राशि चुकाने और प्रॉपर्टी को खाली करने का आदेश देने की अपील की है। बैंक के मुताबिक, 1 सितंबर 2017 तक 198 करोड़ रुपया बकाया था।