गणित लगाएं तो कोहली 3 साल में तोड़ देंगे सचिन के 49 ओडीआई शतकों का रिकॉर्ड

जालन्धर, 27 अक्टूबर। 37वां शतक लगाने के बाद से भारतीय कप्तान कोहली द्वारा सचिन तेंदुलकर के 49 शतकों के रिकॉर्ड को जल्द तोडऩे की चर्चा चल पड़ी है। विराट पिछले 4 सालों से करीब 96 की औसत से रन बना रहे हैं। वह ऐसे ही रन बनाते रहे तो 3 साल में सचिन का यह रिकॉर्ड टूट जाएगा। विराट कोहली मौजूदा समय में 205 वनडे पारियों में 59.62 के बेहद शानदार औसत और 37 शतकों के साथ 10,076 रन बना चुके हैं। इस तरह से समझा जाए तो अगले 13 शतकों तक पहुंचने में विराट कोहली को 78-79 पारियां लगेंगी। जोकि अगले 3 साल में संभव है।
कोहली 200 से अधिक मैच खेलने वाले बल्लेबाजों में सर्वाधिक औसत वाले बल्लेबाज हैं। उनका वनडे में बल्लेबाजी औसत 59.62 का है।उनसे आगे इस लिस्ट में सिर्फ 33 मैच खेलने वाले रयान टेनडशकाटे हैं, जिनका औसत 67 का है। जबकि फखर जमां का 23 मैचों में औसत 59 का है।
65 बार 300 + का लक्ष्य मिला है भारत को
भारतीय टीम को अब तक खेले गए 950 वनडे में 65वीं बार लक्ष्य का पीछा करते वक्त 300 से ज्यादा का टारगेट मिला है। इसमें 16 बार उसे जीत हासिल करने में कामयाबी मिली है जबकि 46 बार उसे हार का सामना करना पड़ा है। बता दें कि टीम इंडिया की 300 से अधिक रनों का पीछा करने में सफलता प्रतिशत 24.61 है।
हर साल लगा रहे औसत 3 शतक
इस समय विराट की उम्र 29 साल 354 दिन की है। उन्होंने 19 साल की उम्र में भारत के लिए अपना पहला वनडे खेला था। यानी के अपने 11 सालों के करियर में वह 36 वनडे शतक लगाने में कामयाब रहे हैं। यानी की हर साल कम से कम 3 शतक। जबकि साल 2010 से 2018 तक सिर्फ 2015-16 को छोड़कर उन्होंने हर साल 3 या उससे अधिक शतक ही लगाए हैं। इस हिसाब से अगले 14 शतक लगाने के लिए उन्हें कम से कम 3 साल से थोड़ा अधिक समय लग सकता है। विराट की मौजूदा फॉर्म और फिटनैस को देखते हुए ये आंकड़ा उनके लिए मुश्किल नजर नहीं आता।
06 सर्वाधिक शतक वैस्टइंडीज के खिलाफ लगा चुके हैं कोहली, उन्होंने हर्षल गिब्स, हाशिम अमला, ए.बी. डीविलियर्स, सचिन तेंदुलकर (5 बार) को पीछे छोड़ा।
03 शतक लगातार लगाए वैस्टइंडीज के खिलाफ कोहली ने, इससे पहले 2017 में किंग्स्टन के मैदान पर खेले गए पिछले मैच में उन्होंने 115 गेंदों में 111 रन बनाए थे।
08 शतक लगा चुके हैं 300 रन का पीछा करते वक्त कोहली, उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी 183 रन (पाकिस्तान के खिलाफ) भी लक्ष्य का पीछा करते वक्त बनी थी।
06 वनडे शतक लगाए थे पिछले साल विराट कोहली ने, इस रफ्तार से उन्हें सचिन का रिकॉर्ड तोडऩे में मात्र 3 साल ही लगेंगे।
17 वनडे खेलने हैं भारत को अगले साल होने वाले विश्वकप से पहले ही। जबकि विश्वकप के ग्रुप मैचों को मिलाकर भारत को 26 वनडे मुकाबले खेलने हैं। ऐसे में विराट के पास ये सुनहरा मौका है कि वह सचिन के वनडे क्रिकेट के सबसे बड़े आंकड़े को हासिल कर लें।