नालों में भरी है गंदगी, बढ़ा मच्छरों का प्रकोप, अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान

मुंगावली, 28 अक्टूबर। नगर की नालियों में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। इस कारण नगर के लोग गंदगी के बीच जीने को विवश है वहीं कई वार्ड में फैली गंदगी के कारण मच्छरों की संख्या अचानक बड गयी है, जिससे आमलोगों को भारी परेशानी उठानी पड रही है। हालांकि नगरवासियों को मच्छर से निजात दिलाने के लिए नगर परिषद ने फ ॉगिंग मशीन कई वर्ष पहले खरीद की गई थी, लेकिन मशीन खराब होने के बाद फि र से खरीदने का प्रयास नहीं किया। वार्ड के कुछ हिस्से ऐसे हैं, जहां नालियां टूटी हुई हैं इसमें से निकलता गंदा पानी गलियों में बहता रहता है। आलम यह है कि लोग गंदे पानी के बीच से आने-जाने को मजबूर हैं।
नाले-नालियों की नियमित सफ ाई नहीं होने से नगर में मच्छरों का प्रकोप बड गया है। वार्डों में पसरी गंदगी के कारण यह स्थिति विकराल होती जा रही है। नगर के लोगों ने गंदगी से प्रभावित वार्डों में कीटनाशक दवाओं का छिडकाव कराने की मांग की है। मालूम हो नगर परिषद क्षेत्र के अनेक वार्डों में जलनिकास के इंतजाम नहीं होने के कारण जलभराव की स्थिति विकराल है। ऐसे में वार्डों में नाले-नालियां जाम रहने से मच्छरों का प्रकोप बड रहा है। ऐसे में न केवल संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है, बल्कि बिजली जाने के बाद लोगों का घरों में रहना मुश्किल हो रहा है। नालियों में भरी गंदगी से जहां मच्छरों की तादात बड रही है। तो वही मच्छरों के काटने से लोगो मे बीमारियां भी बड रही है। जिसमे सबसे ज्यादा वायरल फ ीवर, मलेरिया जैसी बीमारियां ज्यादा फैल रही हैं। अभी पिछले सप्ताह सात आठ मरीज डेंगू के भी शासकीय अस्पताल में इलाज कराने आये थे। जिनमें डेंगू पॉजिटिव निकला था। अगर नगर परिषद ने मच्छरों की रोकथाम के लिए उचित कदम नही उठाया तो, मच्छरों से जनित बीमारियों का ग्राफ और बड सकता है।