परिवार के चार सदस्यों ने खाया जहर, दो की मौत, दो भोपाल रेफर

रायसेन, 29 अक्टूबर। गौहरगंज रोड पर स्थित जेपी पैलेस होटल में एक परिवार के चार सदस्यों ने रात्रि में जहर खा लिया, जिसमें से पति-पत्नी की मौत हो गई है,जबकि उनके दो बच्चों को गंभीर हालत में भोपाल रिफर किया गया है। आत्महत्या करने का कारण परिवारिक विवाद होना अब तक सामने आया है। वहीं जानकारी मिली की मृतक आपराधिक प्रवृति का है, जो धोखाधड़ी के मामलें में छिंदवाड़ा और जबलपुर जेल में बंद भी रह चुका है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार छिंदवाडा निवासी 45 वर्षीय सुनील इंदोरकर पिछले एक माह 19 सितंबर को औबेदुल्लागंज आया था। तब से वह जेपी पैलेस होटल के रूम नंबर 111 में अपनी पत्नी प्रतिमा 40 बर्ष, पुत्र अंशुल 17 बर्ष और अंश 12 बर्ष के साथ रूका हुआ था। शनिवार की रात साढ़े आठ बजे इस परिवार के सभी चारों सदस्यों ने सल्फास खा लिया। जब होटल का वेटर रूम में सर्विस के लिए पहुुंचा तो उन्हें अचेत अवस्था में पाया। यह बात उसने तत्काल अपने मैनेजर को बताई। होटल मैनेजर विवेक अरोरा ने पुलिस को सूचना दी गई और मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में प्रतिभा को मृत घोषित कर दिया गया,जबकि सुनील इंदोरकर और उसके दोनों पुत्र अंशुल व अंश को भोपाल रेफर कर दिया गया। भोपाल हमीदिया अस्पताल में सुनील ने भी दम तोड़ दिया, जबकि उसके दोनों पुत्रों का इलाज चल रहा है।
न्यायाधीश बताकर किया था रूम बुक:-जेपी पैलेट होटल के मैनेजर विवेक अरोरा ने बताया कि एक माह पहले सुनील इंडोरकर एक बड़ी कार में परिवार के साथ होटल आया था और रूम बुक कराया था। उस दौरान उसने जबलपुर का न्यायाधीश होना बताया था। जज का हवाला देेने के कारण उक्त परिवार से ज्यादा कोई पूछताछ नहीं की गई। उनके द्वारा होटल में 10 हजार 500 रुपए भी जमा कराए थे। कल रात जब वेटर रूम में सर्विस देने के लिए पहुंचा तो उक्त परिवार द्वारा अचेत अवस्था में पड़ा दिखा। तत्काल पुलिस को मौके पर बुलाकर उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।
इनका कहना है…
छिंदवाड़ा का एक परिवार करीब एक माह से औगंज की होटल में ठहरा हुआ था और उनके द्वारा होटल में सल्फास खा लिया,जिसमें पति-पत्नी की मौत हो गई है,जबकि दो बच्चों का भोपाल में इलाज चल रहा है। मौत का कारण परिवारिक जमीन संबंधी मामला होना प्रथम दृष्टा सामने आ रहा है, फिर भी पुलिस द्वारा सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है।
– अवधेश प्रताप सिंह
एएसपी रायसेन