विभिन्न नाकों पर पहुंचे कलेक्टर एवं एसपी

ग्वालियर,29 अक्टूबर। एसएसटी एवं एफएसटी टीम सख्ती से भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का पालन करें। भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों और आचार संहिता का उल्लंघन सामने आने पर तत्काल सख्त कार्रवाई करें। इस आशय के निर्देश कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बनाए गए नाकों के निरीक्षण के दौरान इन टीमों में शामिल अधिकारियों व पुलिस बल को दिए। कलेक्टर एवं एसपी ने रविवार को एक दर्जन से अधिक नाकों का जायजा लिया। इस अवसर पर अपर जिला दण्डाधिकारी संदीप केरकेट्टा भी उनके साथ थे। भ्रमण के दौरान कलेक्टर एवं एसपी ने वाहनों की भी जाँच कराई। जिसमें पनिहार नाके के समीप एक वाहन से डेढ़ लाख रूपए की संदिग्ध राशि जब्त की गई। अधिकारी द्वय ने बगैर नम्बर के चलते पाए गए वाहनों को जब्त कर पुलिस थानों की सुपुर्दगी में रखवाया। कलेक्टर एवं एसपी ने रविवार को विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण एवं भितरवार विधानसभा क्षेत्र के नाकों का जायजा लिया। जिसमें पनिहार, मोहना, मोहनपुरा, विक्की फैक्ट्री, पारसेन, बिजौली, बरेठा, सिरोल, निरावली, सुसेरा इत्यादि का शामिल हैं। उन्होंने कुछ नाकों पर सीसीटीव्ही कैमरा बढ़ाने के निर्देश भी संबंधित अधिकारियों को दिए।
कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने अच्छा काम कर रहे एसएसटी व एफएसटी के प्रभारियों व टीम के सदस्यों को शाबाशा दी। साथ ही कहा कि अतिरिक्त पुलिस बल की जरूरत महसूस हो तो तत्काल सूचित करें। जिला व थाने स्तर से जल्द से जल्द पुलिस बल मुहैया कराया जायेगा। मालूम हो जिले के सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में स्वतंत्र, निष्पक्ष, निर्विघ्न एवं शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव सम्पन्न कराने के मकसद से जिले में कड़ाई से आचार संहिता एवं भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का पालन कराया जा रहा है। इस मकसद से नाके बनाकर एसएसटी (स्थेटिक सर्विलेंस टीम) तैनात की गई हैं। साथ ही एफएसटी (फ्लाइंग स्क्वायड टीम) और वीएसटी (वीडियो सर्विलेंस टीम) काम कर रही हैं। इन टीमों में सेक्टर अधिकारियों के साथ-साथ पर्याप्त संख्या में पुलिस बल शामिल किया गया है। इसके अलावा मोबाइल वाहन भी लगातार भ्रमण कर संदिग्ध धनराशि, अवैध मादक पदार्थ और ऐसी वस्तुओं को जब्त कर जाँच कर रहे हैं जिससे चुनाव प्रक्रिया प्रभावित होने की संभावना हो।