आज ही के दिन धोनी ने उड़ाई थीं श्रीलंका की धज्जियां, अब तक नहीं टूटा रिकॉर्ड

नई दिल्ली, 1 नवम्बर। इस दिन उन्होंने अपने वनडे करियर की सबसे बड़ी पारी खेली थी, जिसकी बदौलत दुनिया में उनकी धुंआधार बल्लेबाजी का डंका बजने लगा।
खेली थी 183 रनों की पारी
अक्तूबर, 2005 में श्रीलंका क्रिकेट टीम 7 वनडे मैचों की सीरीज के लिए भारत दौरे पर आई। सवाई मानसिंग स्टेडियम में खेले गए सीरीज के तीसरे वनडे में धोनी ने 183 रनों की पारी खेली थी, जिसमें 15 चौके और 10 छक्के शामिल रहे। उनकी यह पारी हमेशा याद रखी जाएगी क्योंकि इसी के बदौलत भारत ने श्रीलंका को 6 विकेट से मात दी थी। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट पर 298 रन बनाए थे। जवाब में उतरी भारतीय टीम को पहले ओवर में ही सचिन तेंदुलकर(2) के रुप में झटका लगा। इसके बाद धोनी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए और अंतिम समय तक क्रीज पर रहते हुए टीम को 46.1 ओवर में ही जीत दिला दी।
सीरीज में बरसाए थे 346 रन
7 मैचों की इस सीरीज में धोनी को जब भी मौका मिला उन्होंने खुद को सही साबित किया। उन्होंने 5 पारियों में 346 रन बनाए थे, जिसमें 1 शतक और एक अर्धशतक शामिल रहा था।