शिवराज को साधना सिंह व कार्तिकेय पर विश्वास,

बुधनी में समाज के भरोसे अरुण यादव

हृदेश धारवार, 9755990990
भोपाल, 15 नवंबर। मध्यप्रदेश के बुधनी विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस के बीच मुकाबला बहुत ही रोचक हो गया है। मुख्यमंत्री शिवराज ङ्क्षसह चौहान की परंपरागत सीट कही जाने वाली बुधनी विधानसभा से कांग्रेस ने मध्यप्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरूण यादव को प्रत्याशी बनाया है। बुधनी से चुनाव लड़े जाने पर अरूण यादव ने राष्ट्रीय हिन्दी मेल से चर्चा में कहा कि मैं चुनाव जीत और हार के लिए नहीं लड़ रहा हूं, बल्कि कांग्रेस पार्टी ने मुझे जो काम सौंपा है, उसे मैं अपनी पूरी जिम्मेदारी के साथ कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जिस तरीके से भ्रम है कि कांग्रेस उन्हें टक्कर नहीं दे सकती, लेकिन मैं चुनाव लड़कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी यह बता दूंगा कि मुख्यमंत्री के क्षेत्र में आज भी कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। चुनाव में जीत किसकी होती है, इसका फैसला तो बुधनी के मतदाता करेंगे। बुधनी में अरूण यादव पूरी तरह अपने समाज पर निर्भर हैं, उन्हें विश्वास है कि चुनाव में समाज का भरपूर समर्थन मिलेगा, जिसके आधार पर चुनाव में जीत भी हासिल करेंगे। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस बात की घोषणा कर चुके हैं कि वे विधानसभा चुनाव के दौरान बुधनी में प्रचार-प्रचार नहीं करेंगे। लिहाजा उनकी तरफ से पत्नी साधना सिंह और पुत्र कार्तिकेय सिंह चौहान चुनावी मैदान में डटे हुए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पूरा भरोसा है कि साधना ङ्क्षसह और पुत्र कार्तिकेय की मेहनत रंग लाएगी और एक बार फिर चुनाव में जीत दर्ज कराएंगे। मध्यप्रदेश में पिछले 15 साल से भाजपा की सरकार होने की वजह से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति मतदाताओं की अपेक्षा अधिक बढ़ गई है, जिसकी वजह से लोग खुलकर अपनी मांग रखने लगे हैं। साधना सिंह और कार्तिकेय सिंह चौहान स्वयं मतदाताओं के बीच जाकर उनकी समस्याएं सुन रहे हैं और समस्या के निराकरण का आश्वासन भी दे रहे हैं।
साधना ने बुधनी में किया सघन जनसंपर्क: सीहोर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की पत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान ने आज बुधनी विधानसभा क्षेत्र के नसरुल्लागंज में सिंह को प्रचंड बहुमत से जीत दर्ज कराने के लिए सघन जनसंपर्क किया। श्रीमती चौहान ने बुधनी विधानसभा क्षेत्र के नसरुल्लागंज तहसील मुख्यालय पर चुनाव कार्यालय का शुभारंभ किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वह भारतीय जनता पार्टी को इस बार और अधिक मतों से अपने क्षेत्र से विजयी बनाने के लिए जुड़ जाएं। इस अवसर पर उनके साथ बड़ी तादाद में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता तथा नागरिक उपस्थित थे।