मध्यप्रदेश में जारी रहेगा विकास : शिवराज

सागर जिले के केसली में चुनावी सभा को किया संबोधित

सागर/दमोह, 18 नवंबर (ब्यूरो)। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि उनकी सरकार ने प्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से बाहर निकालकर पहले विकासशील, फिर विकसित प्रदेश बनाया और अब प्रदेश को समृद्धशाली बनाएंगे।
चौहान ने सागर जिले की देवरी विधानसभा क्षेत्र के केसली में भाजपा प्रत्याशी तेजीसिंह राजपूत और दमोह जिले की पथरिया विधानसभा के पथरिया में लखन पटेल के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने लगातार प्रदेश में विकास का काम किया और आगे भी यह विकास जारी रहेगा। उन्होंने सागर जिले में चल रही विकास योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि जिले के किसानों को पानी देने के लिए 4748 करोड़ रुपये की बीना सिंचाई परियोजना शुरू की गयी है। इसके अलावा अन्य परियोजनाएं भी चल रही हैं। इन परियोजनाओं से किसानों की एक-एक इंच जमीन पर सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 वर्षों में मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से बाहर निकालकर पहल विकासशील, फिर विकसित प्रदेश बनाया है। अब मध्यप्रदेश को समृद्धशाली प्रदेश बनाएंगे। उन्होंने कहा, हमारी सरकार समृद्ध मध्यप्रदेश में महिलाओं का सशक्तिकरण करेगी, बेटे-बेटियों की फीस भरेगी। हमारी सरकार हर वर्ग का विकास करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने 54 वर्षों तक मध्यप्रदेश में राज किया। उन्होंने गरीबी हटाने का वचन दिया, लेकिन आज तक गरीबी नहीं हटा पाए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी किसान और किसानी की बातें करते हैं, लेकिन उन्हें ये ही नहीं पता कि गेहूं की बाली कैसे लगती है, तो वे क्या किसानों की समस्याएं समझेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 1971 में गरीबी हटाओ का नारा दिया था। गरीबी हटाने के नाम पर वे सत्ता में आए, लेकिन इतने वर्षों के बाद भी वे देश-प्रदेश से गरीबी नहीं हटा पाए। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकारों ने 54 वर्षों तक राज किया। उनके एक मुख्यमंत्री तो 10 साल तक मध्यप्रदेश में रहे, लेकिन उन्होंने प्रदेश का पूरी तरह बंटाढार कर दिया।