कांग्रेस के रवैये के कारण प्रदेश में नहीं हुआ गठबंधन : अखिलेश

भोपाल, 20 नवंबर। मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के समाजवादी पार्टी से गठबंधन न हो पाने का सबसे बड़ा कारण सामने आया है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि, कांग्रेस हमें सीटें देने को तैयार थी लेकिन हमने कहा, बड़ी लड़ाई है, बसपा को भी साथ लीजिए। जिसके लिए कांग्रेस तैयार नहीं हुई, इसीलिए कांग्रेस और समाजवादी पार्टी बीच गठबंधन नहीं हो पाया।
इसके बाद अखिलेश ने कहा कि, अभी भी कांग्रेस पार्टी सपा, बसपा, गोंगपा को साथ लेकर चले तो प्रदेश में 200 से ज्यादा सीटें आएंगी। इसके बाद कांग्रेस से गठबंधन न हो पाने पर उन्होंने कहा कि, अच्छा ही हुआ, अब हम उनकी नाकामियां बता पाएंगे। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि, गठबंधन न हो पाने के लिए कांग्रेस पार्टी जिम्मेदार है। इसके पहले सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी का मध्यप्रदेश के लिए घोषणा पत्र जारी किया। मध्य प्रदेश के लिए जारी घोषणा पत्र में कहा गया है कि बिना किसान को आगे बढ़ाए विकास नहीं किया जा सकता, अल्पसंख्यक, आदिवासी, पिछड़े वर्ग के भाइयों को जब तक न्याय नहीं मिलेगा विकास अधूरा है। समाजवादियों ने यूपी में साढ़े तीन लाख का लोहिया आवास दिया। मध्य प्रदेश में 5 लाख का आवास देंगे। किसान जो सबसे दुखी है। सरकार का दावा रहा है कि मध्य प्रदेश का किसान खुशहाल है।
भाजपा ने किसानों से वादा पूरा नहीं किया पूरे देश में। जहां-जहां भाजपा की सरकार किसान खुदकुशी सबसे ज्यादा। आंकड़े बताते हैं कि करीब 40 हजार से ज्यादा किसान भाजपा की सरकारों में साढ़े चार सालों में आत्महत्या कर चुके हैं। किसान की आय दोगुनी करने का दावा धोखा देने के लिए भाजरा कर रही है। यूपी में गन्ना किसानों को भुगतान का झूठ बोला गया। लेकिन भाजपा का आज तक का रिकार्ड है कि जो वादा घोषणा पत्र में किया वो कभी पूरा नहीं किया।

यूपी में लैपटॉप और डेटा कार्ड देने का वादा किया था संकल्प पत्र में आज तक नहीं दिया। अब मध्य प्रदेश में भी स्कूटी देने का वादा किया है। ये वादा पहले क्यों नहीं किया। 15 साल का शासन रहा। यूपी में सबसे ज्यादा स्मार्ट सिटी बननी थी लेकिन एक भी नहीं बनी, अब बन भी नहीं सकती। मध्य प्रदेश में अभी तक मेट्रो नहीं लेकिन भाजपा के शासन में मेट्रो नहीं बन सकी। जब कभी भाजपा को खाली वक्त मिलता है भाजपा के लोग झाड़ू लेकर निकल पड़ते हैं। स्वच्छ भारत का सेस लिया लेकिन स्वच्छता का अभियान फ्लॉप है। हमने लोहिया आवास में शौचालय बना कर दिया। लेकिन भाजपा ने शौचालय का झूठा वादा किया। आज ही कानपुर में खबर आई है कि दावों के इतर कानपुर नगर में शौचालय नहीं बने हैं।
भाजपा ने बहुत सपने दिखाए हैं लेकिन सपनों और हकीकत में बहुत फर्क है। हमारा मानना है कि लोगों को संपन्न कर दो वो खुद शौचालय बना लेंगे। भाजपा की केंद्र सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर कई नेश्नल हाईवे बनाए लेकिन पैसा नहीं दिया। 15 साल का शासन रहा, लेकिन समाजवादी पार्टी सरकार द्वारा बनाए एक्सप्रेसवे को देख इन्हें एक्सप्रेसवे बनाने की याद शायद आई है। महाराष्ट्र से आने वाले परिवहन मंत्री ने सिर्फ नागपुर तक एक्सप्रेसवे का काम शुरु किया लेकिन उसे इंदौर, भोपाल तक लेकर आते तो मध्य प्रदेश के लोगों को फायदा होता। जितने प्रोजेक्ट मध्य प्रदेश में चल रहे हैं कोई पूरा नहीं हुआ है। समाजवादियों द्वारा बनाए एक्सप्रेसवे पर राफेल भी उतर सकता है। सवाल राफेल पर भी हैं। जो कांग्रेस लेकर आई। भाजपा भी सवालों में हैं। दो साल हो गए नोटबंदी का क्या फायदा हुआ ये बताए भाजपा। जीएसटी, नोटबंदी का फायदा बताने के बजाए गाय माता की रक्षा की बात करी जा रही है। पहले कांग्रेस सीबीआई का झगड़ा कांग्रेस लगाती थी आज भाजपा लगाती है। आज गाय की बात हो रही है। लेकिन दूध उत्पादकों को आप क्या लाभ देने जा रहे हैं? पोषण आहार के मामले में मध्य प्रदेश बहुत पीछे है। एमपी में कुपोषित, गरीब, गर्भवती महिलाओं के लिए समाजवादी दूध, दही, घी की व्यवस्था देंगे। पीएम आज कह रहे हैं कि हम ऊंट के दूध की चाकलेट खिलाएंगे, हम पूछना चाहते है कि वो चाकलेट यहां पहुंची की नहीं? कांग्रेस के लोगों को धन्यवाद कि उन्होंने हमें और बसपा को साथ नहीं लिया। जिससे अब हम उनके द्वारा किए गए गलत कामों के बारे में खुल कर बोल पा रहे हैं। अगर समाजवादियों और बसपा, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी को कांग्रेस साथ ले लेती तो एमपी में 200 सीट जीत जाती। भाजपा जो कहती है वो करती नहीं हैं। भाजपा हर जगह परिवार को बढ़ावा देती हैं।
जब भाजपा घिर जाती है कि इन्हें 2 करोड़ नौकरी देनी है। जब ये घिर जाते हैं कि आरबीआई, सीबीआई क्या कह रही है। तब ये धर्म और जाती के पीछे छुप जाती है। सुप्रीम कोर्ट जिस मामले पर विचार कर रहा है। उस मामले में हम संविधान को मानने वाले टिप्पणी नहीं कर सकते। वही लोग कर सकते हैं जो संविधान में विश्वास नहीं करते हैं। भारत की बड़ी कंपनी एचसीएल और शिवनागर जी ने समाजवादी पार्टी के निवेदन पर लखनऊ में दूसरा सबसे बड़ा हब शुरु किया। अगर मध्य प्रदेश की जनता मौका देगी को आईटी सेक्टर के विकास में काम करेंगे। मध्य प्रदेश में पिछली बार हमारी सीट नहीं थी। लेकिन उससे पहले हमारी 8 सीटें थीं। वोट प्रतिशत भी अच्छा था। इस बार गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का भी साथ हैं। इस लिए विश्वास है कि सीट भी बढ़ेगी और वोट भी बढ़ेगा।