मोदी और योगी के रहते राम मंदिर नहीं बन पाना सदमे जैसा : उमा भारती

भोपाल,30 दिसंबर। केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रहते हुए भी अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाता तो यह जनता के लिए सदमे जैसा है। तीन प्रदेशों में भाजपा की हार पर उन्होंने कहा कि इन नतीजों को लोकसभा चुनाव से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। उमा भारती रविवार को भोपाल में अपने निवास पर पत्रकारों से चर्चा कर रही थीं। उन्होंने कहा कि 2003 में हम इन राज्यों में जीते थे, लेकिन फिर केंद्र में हार गए थे। इसलिए इन चुनाव के नतीजों को लोकसभा चुनाव से जोड़कर देखना गलत होगा। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर बनी फिल्म द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर बैन के बारे में कहा कि जब संजय बारू की किताब पर प्रतिबंध की मांग नहीं की गई तो अब कांग्रेस फिल्म पर प्रतिबंध की मांग क्यों कर रही। उन्होंने भगवान हनुमान की जाति पर हो रही बयानबाजी पर कहा कि भगवान और भक्त की कोई जाति नहीं होती। इस तरह की बहस नहीं करना चाहिए। किसानों की कर्जमाफी पर उन्होंने कहा कि कर्ज माफी तात्कालिक उपाय हो सकता है लेकिन देश में अब बहस होना चाहिए कि किसानों को कर्ज माफी की जरूरत ही नहीं पड़े। चुनाव के समय पार्टी में हुई बागावत पर उमा ने कहा कि जब इस बारे में बैठक होगी और उन्हें बुलाया जाएगा तो वह अपनी बात रखेंगी।