मोहंती को कमलनाथ ने मुख्य सचिव पद से नवाजा

19 अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों से अवार्ड लेने वाले 1982 बैच के आईएएस

भोपाल,31 दिसंबर । गवर्नेंस में नवाचारों के लिए विश्व बैंक और 19 अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा स्थापित सबसे नवीन परियोजना के लिए ग्लोबल डेवलपमेंट नेटवर्क अवार्ड पाने वाले और 15 सालों से सिर्फ नौकरी कर रहे वरिष्ठ आईएएस सुधिरंजन मोहंती मध्य प्रदेश के अगले मुख्य सचिव एस.आर.मोहंती होंगे। सोमवार को राज्य सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं। वह एक जनवरी से अपना पदभार ग्रहण करेंगे। मोहंती 1982 बैच के आईएएस अफसर हैं। बतौर असिस्टेंट कलेक्टर सरगुजा वर्ष 1983 से प्रशासनिक सेवा की शुरूआत करने वाले एसआर मोहंती कई महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। मोहंती की पहचान एक सख्त और अनुशासित अधिकारी के रूप में है। अपनी सख्त कार्यप्रणाली के चलते वे विभिन्न विभागों का संचालन काफी बेहतर तरीके से करते रहे हैं। मध्यप्रदेश में कमलनाथ ने जब से कमान संभाली तभी से यह कयास लगने शुरू हो गए थे कि मोहंती ही उनकी पहली पसंद होंगे। हालाँकि आदेश जारी होने तक भी तिकड़म लगाए जाते रहे हैं। वर्तमान मुख्य सचिव बीपी सिंह का कार्यकाल आज पूरा हो गया है। उनकी जगह अब एस आर मोहंती लेंगे। एस.आर. मोहंती वरिष्ठ अफसर हैं। मोहंती 1982 बैच के आईएएस अधिकारी है, जो वर्तमान में माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड के अध्यक्ष भी है। मोहंती के काम की शैली से वैसे कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दोनों प्रभावित बताए जा रहे हैं। उनकी छवि अफसरों के बीच सख्त और काम को तरजी देने वाले अधिकारियों में गिनी जाती है। वह सरकार की हर योजना को प्रदेश में लागू करने से लेकर उसके क्रियावान तक बेहद समर्पित रहते हैं। उन्हें ये पुरस्कार दिसंबर 2000 में मिला था। उन्होंने रोगी कल्याण समिति का खाका तैयार किया था। दुनिया भर से 160 प्रोजोक्ट में से उनका ये कांसेप्ट चुना गया था। जूरी में विश्व बैंक के अध्यक्ष, एडीबी के अध्यक्ष, दो नोबेल पुरस्कार विजेता और छह अन्य प्रमुख विशेषज्ञ शामिल थे। बालाघाट, सतना व इंदौर के कलेक्टर रहने के अलावा वे जनसंपर्क आयुक्त, मार्क फेड एमडी, महिला बाल विकास, चिकित्सा शिक्षा, वित्त निगम, स्वास्थ्य, योजना आयोग, स्कूल शिक्षा सहित अन्य विभागों में भी उच्च पदों पर रहे हैं।
मुख्य सचिव : एक नजर
राज्य शासन ने श्री सुधि रंजन मोहन्ती को मुख्य सचिव नियुक्त किया है। श्री मोहन्ती 1982 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। वर्तमान में वे अध्यक्ष माध्यमिक शिक्षा मण्डल के पद पर पदस्थ थे। बाईस मार्च 1960 को जन्मे श्री मोहन्ती ने सेन्ट स्टीफन्स कॉलेज दिल्ली से अर्थशास्त्र में बी.ए. ऑनर्स तथा आईआईएम अहमदाबाद से एमबीए किया। श्री मोहन्ती की पहली पदस्थापना 1983 में असिस्टेंट कलेक्टर सरगुजा के रूप मे हुई। वे बालाघाट,सतना तथा इन्दौर कलेक्टर रहे। श्री मोहन्ती प्रबंध संचालक मार्कफेड, आयुक्त जनसम्पर्क रहे। वे नियंत्रक शासकीय मुद्रणालय, आयुक्त महिला एवं बाल विकास रहने के उपरांत सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, सदस्य सचिव राज्य योजना आयोग, सचिव योजना आर्थिक सांख्यिकी विभाग और सचिव नवीन एंव नवकरणीय ऊर्जा विभाग रहे। श्री मोहन्ती स्कूल शिक्षा विभाग और नवीन तथा नवकरणीय ऊर्जा विभाग में प्रमुख सचिव तथा अपर मुख्य सचिव भी रहे। वे फरवरी 2015 से अध्यक्ष माध्यमिक शिक्षा मण्डल के पद पर पदस्थ रहे। श्री मोहन्ती ने सेवा काल के दौरान इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ फॉरेन ट्रेड दिल्ली एन.आई.आर.डी. हैदराबाद के साथ साथ लंदन से वित्तीय प्रबंधन, विकास गतिविधियों के प्रबंधन आदि पर प्रशिक्षण भी प्राप्त किया।