शिवराज सिंह चौहान हो सकते हैं नेता प्रतिपक्ष

दिल्ली में हुआ मंथन

राजनीतिक संवाददाता
भोपाल, 3 जनवरी। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में हार के बाद भाजपा में नेता प्रतिपक्ष के चयन को लेकर रस्साकशी चल रही है। आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी सभी समीकरणों पर विचार कर रही है।
सूत्रों के मुताबिक भाजपा लोकसभा चुनाव में जुट गई है। नेता प्रतिपक्ष के चयन को लेकर कवायद भी तेज हो गई है। बताया जाता है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों से मुलाकात भी की है। इस मुलाकात को नेता प्रतिपक्ष से जोड़कर देखा जा रहा है। जानकारी के मुताबिक गुरुवार को शिवराज सिंह चौहान को वापस भोपाल आना था, लेकिन शाम को भाजपा पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक होने के चलते वे दिल्ली में रूक गए। नेता प्रतिपक्ष को लेकर शिवराज सिंह चौहान 4 जनवरी को भोपाल में प्रदेश पदाधिकारियों व विधायकों से भी चर्चा कर सकते हैं। शिवराज सिंह चौहान 4 तारीख को राजधानी के मानस भवन में भोपाल जिले के कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात करेंगे। बताया जाता है कि नेता प्रतिपक्ष के चयन के लिए केंद्रीय नेतृत्व ने प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को पर्यवेक्षक नियुक्त किया है।