केंद्र में कांग्रेस सरकार आते ही शुरू होगी राफेल घोटाले की जांच : राहुल गांधी

नई दिल्ली, 4 जनवरी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को ऐलान किया कि आगामी लोकसभा चुनाव में यदि कांग्रेस जीतकर सत्ता में आती है तो वह राफेल घोटाले की जांच कराएंगे। उन्होंने कहा कि इस घोटाले के सभी दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी। संसद के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि करोड़ों के राफेल सौदे पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन को कांग्रेस के सवालों का जवाब देना चाहिए, उन्होंने कहा, हम और पूरा विपक्ष चाहता है कि जब रक्षा मंत्री पीएम मोदी की तरफ से संसद में बोलें तो वह कांग्रेस के सवालों का जवाब दें।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, युवाओं, किसानों देख लो, चर्चा के समय प्रधानमंत्री संसद में नहीं थे, वह राफेल पर चर्चा से भाग गए। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘अरुण जेटली ने लंबा भाषण दिया, मुझे गाली दी, लेकिन जो सवाल हैं उनका जवाब नहीं दिया। उन्होंने सवाल किया, विमान की कीमत को 526 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1600 करोड़ रुपये किया गया, यह किसने बढ़ाया, क्या वायुसेना ने बढ़ाया या प्रधानमंत्री ने बढ़ाया? राहुल ने आगे कहा, क्या वायुसेना ने 126 विमान मांगे थे या 36 विमान मांगे थे, क्या नए सौदे को लेकर रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों को आपत्ति थी? उन्होंने कहा, आशा है कि रक्षा मंत्री इसका जवाब देंगी, लेकिन मैं आपको बता सकता हूं कि वो उन सवालों का जवाब नहीं देंगी, यह मेरा संदेह है। गांधी ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहीं नहीं कहा है कि जांच नहीं होनी चाहिए, अगर 2019 में हमारी सरकार बनती है तो इसकी आपराधिक जांच होगी और जिम्मेदार लोगों को दंडित किया जाएगा। उन्होंने एक बार फिर से यह मांग दोहराई कि इस मामले की संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से जांच होनी चाहिए।
राहुल गांधी का अमेठी दौरा रद्द
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का अमेठी दौरा रद्द हो गया है। इस बात की जानकारी अमेठी के कांग्रेस के वरिष्ट नेता संजय सिंह ने दी। बताया जा रहा है कि संसद सत्र की व्यस्तता के चलते उन्होंने अपना अमेठी दौरा रद्द किया है।