साहब के विशेष सहायक भी साहब

सूबे में इन दिनों बदलाव की बयार चल रही है और यह बयार दिखने भी लगी है। दरअसल बदलाव के प्रतीक बने साहब के विशेष सहायक भी अपने आपको सुपर साहब की तरह स्थापित करने में लगे हैं। वाकया कुछ दिन पहले का ही है। जब साहब के बंगले में दूर संचार के नेटवर्किंग में परेशानी आ रही थी, लिहाजा साहब के विशेष सहायक ने सीधे टेलीकॉम कंपनी के मालिक को फोन लगाकर शिकायत कर दी। परिणाम यह हुआ कि दूसरे ही दिन उस प्राइवेट कंपनी के सारे लोग मय लाव-लश्कर और उपकरण लेकर साहब के बंगले पहुंच गए और पूरा टॉवर ही स्थापित कर दिया। इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी ने जब विशेष सहायक की इतनी पहुंच देखी तो वे भी अवाक रह गए और ‘वक्त है बदलाव काÓ कहते हुए चले गए।
…. खबरची