छुटभैयों की धमक से परेशान साहब

छुटभैयों की धमक से परेशान साहब
मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से राज्य मंत्रालय में पदस्थ अधिकारियों के लिए छुटभैये नेता परेशानी का सबब बने हुए हैं। मंत्री एवं विधायकों के करीबी ट्रांसफर, पोस्टिंग, ठेके व अनुदान के काम लेकर मंत्रालय में डेरा डाले हुए हैं। छुटभैये नेता काम नहीं होने पर अपने मंत्रीजी की धौंस देने से भी नहीं चूकते। ऐसा ही एक वाकया पिछले दिनों एक वरिष्ठ आईएएस अफसर के सामने आया, जिसमें छुटभैये नेताजी अपने किसी परिचित की बहाली का आग्रह करने आए थे, जो कि शासकीय उपक्रम में पदस्थ थे, साहब ने लिखित में जांच के लिए आवेदन मांगा तो नेताजी अपने करीबी विभागीय मंत्री की धौंस देने लगे, इसके बाद साहब ने जब उनसे लिखित में आवेदन पत्र मांगा तो वे तैयार हो गए और चले गए। साहब चंबल क्षेत्र के एक मंत्री के विभाग में पदस्थ हैं। उल्लेखनीय है कि यह वाक्या प्रमुख सचिव अजीत केसरी को लेकर नहीं है। …. खबरची