पंचायतों के विकास के लिए बनेगा मास्टर प्लान

पंच परमेश्वर योजना का नाम होगा महात्मा गांधी ग्राम स्वराज एवं विकास योजना
प्रशासनिक संवाददाता
भोपाल, 14 फरवरी।
मध्यप्रदेश ग्राम पंचायत विभाग ने परमेश्वर योजना का नाम बदलने की तैयारी शुरू कर दी है। पंचायत एव ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने बताया कि ग्राम पंचायतों में संचालित पंच परमेश्वर योजना का नाम बदलकर महात्मा गांधी ग्राम स्वराज एवं विकास योजना किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों का विकास गांव की जरूरत के हिसाब से किया जाएगा।
मंत्री कमलेश्वर पटेल गुरूवार को राज्य मंत्रालय में मीडिया से चर्चा कर थे, इस दौरान उन्होंने कहा कि गांव के विकास के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा। पटेल ने कहा कि हर ग्राम पंचायत का मास्टर प्लान बनेगा और मास्टर प्लान के आधार पर ही ग्राम पंचायत का सुनियोजित विकास किया जाएगा। मंत्री पटेल का मानना है कि विभाग के दफ्तर में बैठकर गांव के विकास की योजना नहीं बनाई जा सकती गांव के संपूर्ण विकास के लिए ग्रामवासियों की सहभागिता जरूरी है। उनकी जरूरत के आधार पर ही ग्राम पंचायतों का विकास किया जा सकता है। कमलेश्वर पटेल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव के दौरान अपन वचन पत्र में प्रदेश की जनता से जो वादे किए थे, उन्हें पूरा किया जाएगा। मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार अपने वचन पत्र को पूरा करने के लिए संकल्पित है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते साथ ही 2 घंटे में प्रदेश के किसानों का 2 लाख रूपए तक का कर्ज माफ किया है, साथ ही बेटियों के विवाह के लिए मिलने वाली 28 हजार रूपए की राशि को बढ़ाकर 51 हजार किया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार किसानों की सरकार है। प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिले इसके लिए भी प्रदेश सरकार संकल्पित है।