भार्गव जी के पीछे कौन


राजनीति अजब होती है कब दोस्त दुश्मन और दुश्मन दोस्त हो जाएं पता ही नहीं चलता। इसी बात का पता लगा रहे हैं इन दिनों नेता प्रतिपक्ष। पहले तो साहब को नेता प्रतिपक्ष बनने से रोकने के लिए काफी रोड़े लगाए गए, फिर पुराने महकमे के मामलों की जांच की बात कही जा रही है और अब तो गजब ही हो गया, नेता जी की सुरक्षा में लगे 5 में से 2 सुरक्षा कर्मियों को ही वापस बुला लिया गया। भार्गव जी नाराज हैं, यह जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे हैं कि उनकी कामयाबी से जलने वाले कौन हैं। सूत्र बताते हैं कि पार्टी के ही अंदर एक बड़े नेताजी सूबे की सरकार को गोपाल जी के खिलाफ भड़का रहे हैं और इस माध्यम से वह अपनी पुरानी अदावत चुका लेना चाहते हैं। लेकिन गोपाल जी भी ठेठ बुंदेलखंडी हैं, पता लगा ही लेंगे फिर क्या होगा ये तो वक्त बताएगा। …खबरची