गूगल ने दो सीनियर एग्जीक्यूटिव्स को दिए 730 करोड़ रुपए, इनमें एक भारतीय मूल के अमित सिंघल

सैन फ्रांसिस्का, 12 मार्च। सर्च इंजन कंपनी गूगल ने अपने यहां के बहुचर्चित यौन उत्पीडऩ मामले में फंसे दो सीनियर एग्जीक्यूटिव्स को 730 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। कंपनी ने फॉदर ऑफ एंड्रॉयड कहे जाने वाले एंडी रूबीन को 626 करोड़ रुपए जबकि भारतीय मूल के अमित सिंघल को 104 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक दोनों को पहले 940 करोड़ रुपए का भुगतान किया जाना था। भारतीय मूल के अमित सिंघल जिन्होंने गूगल से निष्काषित होने के बाद उबर में ज्वाइन किया, जिसके बाद अमित को 104 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया, हालांकि पहले अमित को 313 करोड़ रुपए दिया जाना था। सिंघल गूगल में वाइस प्रेसिडेंट (सर्च) थे जबकि एंडी रुबीन गूगल में बतौर एंड्रॉयड हेड कार्यरत थे।
क्या था मामला
फॉदर ऑफ एंड्रॉयड कहे जाने वाले एंडी रुबीन पर साल 2013 में यौन उत्पीडऩ के आरोप लगे, जिसके बावजूद गूगल ने उन्हें एग्जिट प्लान के तहत 626 करोड़ दिए। एंडी रूबीन को फादर ऑफ एंड्रॉयड कहा जाता है और उनकी कंपनी एंड्रॉयड इन्कॉर्पोरेशन को गूगल ने 17 अगस्त 2005 को 50 करोड़ डॉलर में खरीद लिया था। इसके बाद रूबीन गूगल के इंजीनियर डिपार्टमेंट के वाइस प्रेसिडेंट बनाए गए।
गूगल द्वारा एंडी रुबीन को इतनी बड़ी रकम देने के विरोध में कंपनी के 1500 से ज्यादा कर्मचारियों ने वाकआउट भी कर दिया था।
अमित सिंघल पर साल 2016 में लगे यौन उत्पीडऩ के आरोप लगने के बाद गुपचुप तरीके से इस्तीफा दे दिया था, जिसके लिए उन्हें बड़ी रकम का भुगतान किया गया।