भारत से पंगा लेना पाक को पड़ा भारी, हरी मिर्च ने निकाला धुंआ

नई दिल्ली, 13 मार्च। पुलवामा हमले के बाद से पाकिस्तान की सब्जी मंडी में आग लगी हुई है। हालत यह है कि पाक में फल एवं सब्जी के दाम आसमान छू रहे हैं। पुलवामा हमले से पहले भारत से टमाटर एवं कई हरी सब्जी की पाकिस्तान में सप्लाई हो रही थी जिसे रोक दिया गया है। इसका नतीजा यह हुआ है कि पाकिस्तान की मंडियों में किसी भी फल-सब्जी की कीमत 100 रुपए प्रति किलोग्राम से कम नहीं है। पाकिस्तान के मशहूर अखबार डॉन में छपी खबर के मुताबिक 12 मार्च, 2019 को लाहौर की मंडी में हरी मिर्च की कीमत 400 रुपए किलोग्राम हो गई। वहीं टमाटर के भाव लाहौर के खुदरा बाजार में 200 रुपए प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए। भारत के अमृतसर से सटे पाकिस्तान के लाहौर में तो मुख्य रूप से भारत के ही टमाटर एवं कई हरी सब्जी की आपूर्ति होती थी। हरी मिर्च की बिक्री बंद – रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल की समान अवधि में लाहौर में टमाटर की औसत कीमत 24 रुपए प्रति किलोग्राम थी लेकिन इस साल सभी सब्जी-फल के दाम 100-200 रुपए प्रति किलोग्राम चल रहे हैं।