सुरेश पचौरी नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

मुख्य संवाददाता
भोपाल, 22 मार्च।
कांग्रेस के दिग्गज और पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री (कार्मिक) सुरेश पचौरी लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे। उन्होंने इस आशय की सूचना अपने मित्र और वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के माध्यम से पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व तक पहुंचा दी है। पिछले कई दिनों से राजनैतिक माहौल में यह कयास लगाए जा रहे थे कि सुरेश पचौरी होशंगाबाद से लोकसभा चुनाव लडऩे का मन बना चुके हैं,
साथ ही उनकी सक्रियता भी बढ़ रही थी। लेकिन अब लगभग उनके खुद के द्वारा चुनाव नहीं लडऩे की मंशा के बाद खबरों को शायद विराम लग जाए।
राजनैतिक समीक्षक मानते हैं कि चूँकि होशंगाबाद में ब्राम्हण वोटर निर्णायक संख्या में हैं, लिहाजा सुरेश पचौरी कांग्रेस के लिए उपलब्ध बेहतर विकल्प हो सकते थे। वैसे सूत्रों का दावा है कि चुनावी राजनीति से पचौरी का पलायन नहीं माना जाना चाहिए, संभवत: पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के कहने पर सुरेश पचौरी भोपाल से चुनाव मैदान में आ सकते हैं। जिसकी बड़ी संभावना स्थानीय समीकरणों को देखते हुए बन रही है। सुरेश पचौरी समर्थक नेता इन दिनों राजधानी की सियासत में बड़ी जिम्मेदारी में हैं, जिनमें कैलाश मिश्रा जिलाध्यक्ष शहर, आरिफ मसूद विधायक, जिलाध्यक्ष ग्रामीण, मनोज शुक्ल अध्यक्ष, अमित शर्मा जैसे पचौरी समर्थक अभी भी उनकी दावेदारी के लिए सक्रिय हैं। अब अंतिम फैसला तो पचौरी को खुद करना है, वैसे उन्होंने अपनी तरफ से यह सन्देश पहुंचा दिया है कि वे लोकसभा का चुनाव नहीं लडऩा चाहते। अब उनके फैसले पर अंतिम मुहर राहुल गांधी की लगना शेष है।