लेक्टर का ट्रांसफर रुकवाने अड़े नेता जी…


कमलनाथ सरकार जब से सत्ता में आई है, तब से घर-भर के बदल डालूंगा की तर्ज पर आए दिन अधिकारियों की स्थानांतरण लिस्ट सामने आ रही है। जिनके ट्रांसफर हो रहे हैं उनको खुद भी पता नहीं चल रहा है कि उन्हें किसने और क्यों हटाया या पदस्थापना कराई, इसी बीच विंध्य के एक बड़े जिले में हाल ही में पदभार ग्रहण किए कलेक्टर का पिछले दिनों रातों-रात तबादला हो गया। इसको लेकर एक बड़े नेता ने खुलकर नाराजगी जाहिर की, नेता जी को यह भी नहीं मालूम कि कलेक्टर का तबादला किसने कराया, इसके पहले किसके अनुशंसा पर वे आए थे। लेकिन कहा जाता है कि उन्होंने स्थानांतरित हुए कलेक्टर को आश्वासन दे दिया है कि ट्रांसफर सरकार को रोकना ही पड़ेगा और जब तक मैं न कहूं आप नई जगह ज्वाइन नहीं करेंगे। बताया जा रहा है कि नेता जी भोपाल के लिए निकल चुके हैं और मुख्यमंत्री के सामने स्थानांतरण रूकवाने के लिए उपस्थित भी होंगे। उल्लेखनीय है कि यह वाक्या सतना जिले के तत्कालीन कलेक्टर और कांग्रेस के नेता अजय सिंह को लेकर नहीं लिखा गया है…।<br>
खबरची</p>
<!– /wp:paragraph –>

कलेक्टर का ट्रांसफर रुकवाने अड़े नेता जी…
कमलनाथ सरकार जब से सत्ता में आई है, तब से घर-भर के बदल डालूंगा की तर्ज पर आए दिन अधिकारियों की स्थानांतरण लिस्ट सामने आ रही है। जिनके ट्रांसफर हो रहे हैं उनको खुद भी पता नहीं चल रहा है कि उन्हें किसने और क्यों हटाया या पदस्थापना कराई, इसी बीच विंध्य के एक बड़े जिले में हाल ही में पदभार ग्रहण किए कलेक्टर का पिछले दिनों रातों-रात तबादला हो गया। इसको लेकर एक बड़े नेता ने खुलकर नाराजगी जाहिर की, नेता जी को यह भी नहीं मालूम कि कलेक्टर का तबादला किसने कराया, इसके पहले किसके अनुशंसा पर वे आए थे। लेकिन कहा जाता है कि उन्होंने स्थानांतरित हुए कलेक्टर को आश्वासन दे दिया है कि ट्रांसफर सरकार को रोकना ही पड़ेगा और जब तक मैं न कहूं आप नई जगह ज्वाइन नहीं करेंगे। बताया जा रहा है कि नेता जी भोपाल के लिए निकल चुके हैं और मुख्यमंत्री के सामने स्थानांतरण रूकवाने के लिए उपस्थित भी होंगे। उल्लेखनीय है कि यह वाक्या सतना जिले के तत्कालीन कलेक्टर और कांग्रेस के नेता अजय सिंह को लेकर नहीं लिखा गया है…।
खबरची