विचलित नहीं हैं दो बड़े नौकरशाह ….

मध्यप्रदेश की व्यवसायिक राजधानी इंदौर के उच्च न्यायालय में दाखिल एक निजी शिकायत (परिवाद) को संज्ञान में लेते हुए न्यायाधीश ने संबंधित एनजीओ के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने का आदेश दिया है। उपरोक्त प्रकरण में बताया जाता है कि लगभग 100 खोखे के घोटाले से एक एनजीओ ने फायदा उठाया है तो शिकायत हो गई। शिकायतकर्ता ने संबंधित शिकायत में तीन बड़े नौकरशाहों का भी नाम भी लपेटा है, जिसमें दो आईएएस और एक आईएफएस हैं। इसी के चलते राज्य मंत्रालय के नई एनेक्सी में हड़कंप मचा हुआ है। लेकिन उपरोक्त दोनों बड़े नौकरशाह बिल्कुल विचलित नहीं हैं, क्योंकि उनका मानना है कि मामले में दम नहीं। उल्लेखनीय है कि यह वाक्या अतिरिक्त मुख्य सचिव अनुराग जैन और प्रमुख सचिव हरिरंजन राव को लेकर नहीं लिखा गया है। जहां तक सवाल है आईएफएस अधिकारी का तो बताया जाता है कि वे किसी अच्छे वकील की तलाश में निकल चुके हैं। … खबरची