विपक्ष का काम करने में आता है मजा: राहुल

चुनाव हारने के बाद पहली बार अमेठी पहुंचे, कहा-
अमेठी, 10 जुलाई।
राहुल गांधी लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद पहली बार बुधवार को अमेठी पहुंचे। उन्होंने अपनी अमेठी यात्रा के दौरान कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत की। राहुल गांधी ने अमेठी पहुंचकर कार्यकर्ताओं से कहा कि हम यहां विपक्ष का काम करने आए हैं, विपक्ष का काम करने में सबसे ज्यादा मजा आता है। राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, आपने भी कुछ गलतियां की होंगी, सच्चाई यह है कि मैं केरल से सांसद हूं, लेकिन अमेठी मेरा संसदीय क्षेत्र रहा है, जब कभी भी पार्टी कार्यकर्ताओं और क्षेत्रीय जनता को मेरी जरूरत होगी, मैं यहां मौजूद रहूंगा। राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि अब हम अमेठी में विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं, आप सबको लोगों की मदद के लिए काम करना होगा, आप सबको अर्थव्यवस्था की हालत पता है, हमें पता है कि यहां भ्रष्टाचार कितना है, लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है, ऐसे में कार्यकर्ताओं को लोगों से बातचीत जारी रखनी चाहिए, मैं अब वायनाड से सांसद हूं लेकिन अमेठी की जनता के लिए काम करता रहूंगा।
राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक बंद कमरे में बुलाई थी, जहां पार्टी कार्यकर्ताओं के अलावा किसी भी मीडियाकर्मी की एंट्री नहीं थी, उनके आने से पहले ही यह साफ हो गया था कि वे न तो इस दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, न ही मीडिया को पार्टी कार्यकर्ताओं के अलावा किसी को मीटिंग रूम में दाखिल होने देंगे। गुप्त रणनीति के तहत कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके राहुल गांधी ने अमेठी में यह बैठक बुलाई थी, उन्होंने साफ कर दिया है कि राहुल गांधी, हार के बाद अमेठी का साथ नहीं छोडऩे वाले हैं, भले ही अमेठी की जनता ने उन्हें हरा दिया है।