निकाय चुनाव में भूपेश बघेल होंगे कांग्रेस के पोस्टरबॉय

रमन सिंह बतायें क्या वह भाजपा के चेहरे होंगे- कांग्रेस
रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव एवं प्रवक्ता विकास तिवारी ने भाजपा सरकार के मुखिया रहे डॉ रमन सिंह के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि जहां एक ओर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के नेतृत्व में विधानसभा के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी 15 सालों में 15 सीटों पर ही सिमट के रह गई और जब भारतीय जनता पार्टी के सदस्यता अभियान की बैठक पर चर्चा की गई तो चौकाने वाली बात सामने आयी कि प्रदेश के लोग भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़ना नहीं चाह रहे हैं, जिस वजह से भारतीय जनता पार्टी अपने सदस्यता अभियान को और कई दिनों तक चलाने की मजबूरी सामने आ रही है. बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहां था कि भाजपा निकाय चुनाव में सर्वाधिक जगह पर जीत दर्ज करेगी और उन्होंने दुर्ग लोकसभा में कांग्रेस की हार पर तंज भी कसा था।
प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह कांग्रेस सरकार के मुखिया किसान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर तंज कसने के चक्कर ने अपने इतिहास को भूल गये जबकि डॉ रमन सिंह के नेतृत्व में लड़े गए चुनाव में भाजपा 15 सालों में 15 सीट पर ही सिमट कर रह गई वही प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहते भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी विधानसभा में एक तरफा जीत दर्ज करते हुए 68 सीटों पर अपने प्रत्याशी जिताने में सफल रही थी. दूसरी ओर पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के गृह जिला कवर्धा जहां से कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी एवं वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने प्रदेश में सर्वाधिक लीड से जोकि 60 हजार की जीत दर्ज की जबकि कवर्धा जिले का कमाल खुद पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह एवं उनके पूर्व सांसद पुत्र अभिषेक सिंह ने चुनाव की कमान संभाल के रखी थी .बावजूद कवर्धा की जनता ने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी एवं पिता पुत्र की जुगलबंदी को सिरे से खारिज करते हुए कांग्रेस के प्रत्याशी मोहम्मद अकबर को प्रचंड बहुमत से जीत दिलवायी थी.