जेवियर मेढ़ा का भाग्य खुलेगा


मध्यप्रदेश में झाबुआ उपचुनाव कई मामलों में महत्वपूर्ण है। भारतीय जनता पार्टी का उम्मीदवार भानू भूरिया इस बात को लेकर परेशान है कि जेवियर मेढ़ा बागी होने वाले थे और अब कांतिलाल भूरिया के साथ पूरे विधानसभा क्षेत्र में धूम मचा रहे हैं। इधर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कांतिलाल की जीत के बाद बड़े से बड़ा पद मिलने की उम्मीद जाग गई है, तो दूसरी ओर जेवियर मेढ़ा के समर्थकों में भी अद्भुत उत्साह है। जेवियर मेढ़ा को विधानसभा टिकट नहीं मिला तो भी उसके समर्थक कहते हैं क्या फर्क पड़ा, जेवियर मेढ़ा का भाग्य उदय हो गया। जब जेवियर मेढ़ा के एक निकटतम सहयोगी से पूछा गया कि भाग्य कैसे उदय हो गया तो उसने चुपचाप कान में आकर कहा कि जेवियर मेढ़ा राज्य सभा के दावेदार हो गए भाई। वह समर्थक आगे यह भी कहता है कि झाबुआ की तकदीर खुल जाएगी यदि जेवियर मेढ़ा राज्यसभा में चले गए, वह आगे यह भी कहता है अच्छा हुआ जेवियर मेढ़ा को विधानसभा का टिकट नहीं मिला। वह आगे कहता है कांतिभाई हमारी भी जय-जय तुम्हारी भी जय-जय।
… खबरची