आईटी रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 मार्च के बजाय 30 जून की गई, कोरोना संकट के चलते सरकार का फैसला

आईटी रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 मार्च के बजाय 30 जून की गई, कोरोना संकट के चलते सरकार का फैसला

देश में कोरोना संकट पर प्रेस से बात कर रही हैं वित्त मंत्री। कोरोना वायरस संकट को देखते हुए इनकम टैक्स भरने की तारीख सरकार ने बढ़ा दी है। अब लोग 30 जून तक अनपी इनकम टैक्स भर सकते हैं।

कोरोना संकट के चलते सरकार ने किए ये बड़े बदलाव:

  • वित्त वर्ष 2018-19 की आईटी रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 मार्च के बजाय 30 जून, 2020 होगी।
  • देर से फाइल होने वाली रिटर्न पर ब्याज दर 12 से घटाकर 9 फीसदी की गई।
  • टीडीएस जमा होने की तारीख में कोई बदलाव नहीं, सिर्फ देर होने पर लगने वाले ब्याज की दर 9 फीसदी और वो भी सिर्फ 30 जून 2020 तक।
  • आधार-पैन लिंकिंग की तारीख 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दी गई है।
  • विवाद से विश्वास स्कीम भी 30 जून, 2020 तक बढ़ा दी गई है।
  • विवाद से विश्वास स्कीम में पहले 31 मार्च तक अतिरिक्त चार्ज लगना था, लेकिन अब इसकी तारीख 30 जून कर दी गई है।

AddThis Sharing ButtonsShare to Facebook