नमकीन बनाने के लिए पैरों से गूंदा जा रहा था मैदा, दुकान सील

किराना दुकानों, बड़े कारोबारियों और अन्य फैक्ट्रियों में मारे गए छापे
रायपुर। मुंगेली शहर के किराना दुकान संचालकों, कुछ बड़े कारोबारियों और फूड प्रोडक्ट बनाने वाले कारखानों में अफसरों ने दबिश दी। नमक की कालाबाजारी के मामले में एक दुकान को सील कर दिया गया। अफसरों ने राम तलेजा नाम के व्यक्ति की सलोनी (मैदे से बना नमकीन स्नैक्स) फैक्टरी में छापा मारा। यहां देखा गया कि कर्मचारियों ने मास्क नहीं पहना था। नमकीन बनाने के लिए पैर से मैदा गूंदा जा रहा था। साफ-सफाई का भी कोई बंदोबस्त नहीं था। फूड प्रोडक्ट की पैकेजिंग में किसी कंपनी का नाम या प्रोडक्ट की जानकारी भी नहीं थी। अब कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। अफसरों की टीम जिले के कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे के निर्देश पर शिवाजी वार्ड पहुंची। यहां कृषि उपज मंडी में संचालित कन्हैया आर्या किराना स्टोर्स में छापा मारा गया। अधिकारियों ने बताया कि यहां अधिक दर पर नमक बेचे जाने की शिकायत मिली थी। यहां से 81 बोरी और मंडी गोदाम में 47 बोरी नमक मिला। इसे अवैध तरीके से स्टॉक किया गया था। दुकान को सील कर दिया गया। संचालक के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई की गई। शहर के मां किराना स्टोर्स में 18 रुपए का नमक 40 रूपये प्रति पैकेट की दर से बेचा जा रहा था।नमक को लेकर जिला प्रशासन ने हिदायत दी है कि व्यापारी मुनाफाखोरी ना करें, लेकिन लालच के आगे व्यापारी किसी की नहीं सुन रहे, तस्वीर मुंगेली से जब्त नमक के स्टॉक की।नमक को लेकर जिला प्रशासन ने हिदायत दी है कि व्यापारी मुनाफाखोरी ना करें, लेकिन लालच के आगे व्यापारी किसी की नहीं सुन रहे, दुकानदार पर 25 हजार रूपये का जुर्माना लगाया गया। राधा कृष्णा एजेसीं में सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं होने की वजह से एक हजार रूपये का जुर्माना लगाया गया। न्यू देवांगन पान मसाला दुकान पर भी कार्रवाई हुई। अग्रवाल ट्रेडर्स ने इलेक्ट्रानिक मशीन का सत्यापन नहीं करवाया था। अधिकारियों ने इनपर दो हजार रूपये का फाइन लगाया। मुंगेली अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व चित्रकांत चार्ली ठाकुर, प्रभारी खाद्य अधिकारी विमल दुबे, तहसीलदार अमित सिन्हा सहित पुलिस और नगर पालिका मुंगेली के अधिकारियों की टीम ने इन कार्रवाइयों को अंजाम दिया। अफसरों ने बताया कि यह सख्ती जारी रहेगी।