लॉकडाउन के दौरान, भक्तों को आधी कीमत पर मिलेगा तिरुपति बालाजी का लड्डू प्रसादम

कोरोना महामारी की वजह से देशभर में लगे लॉकडाउन में अब ढील दी जाने लगी है और चीजों को फिर से शुरू करने की कोशिशें भी तेज हो गई हैं। ऐसे में देशभर में श्रद्धालुओं के लिए बंद पड़े मंदिरों को खोलने की कवायद भी शुरू होने लगी है। फिलहाल कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे राज्यों में एक जून से मंदिरों को खोलने की मांग हो रही है।
वहीं, आंध्रप्रदेश के तिरुपति में स्थित पवित्र बाला जी मंदिर के प्रशासन ने भक्तों के लिए एक नई पहल शुरू करने का फैसला किया है। मंदिर का प्रसिद्ध लड्डू प्रसादम् अब आधी कीमत पर भक्तों के घर पहुंचाया जाएगा। जल्दी ही तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम् ट्रस्ट इसकी शुरुआत करेगा। इसके तहत 50 रुपए में मिलने वाले लड्डू को अब भक्तों को 25 रुपए प्रतिनग के हिसाब से दिया जाएगा। मंदिर इसके लिए थोक ऑर्डर भी लेगा।
ट्रस्ट के मुताबिक 50 दिनों से भक्त भगवान बालाजी के दर्शन नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में यह तय किया गया है कि फिलहाल जो भक्त मंदिर नहीं आ पा रहे हैं, उन्हें भगवान का पवित्र लड्डू प्रसादम् घर बैठे दिया जाए। इसके लिए आंध्र प्रदेश के 13 जिलों, साथ ही तेलंगना के हैदराबाद, तमिलनाडु के चेन्नई और कर्नाटक के बंगलुरू के सेंटर्स पर लड्डू प्रसाद भिजवाए जा रहे हैं।

लॉकडाउन के पहले मंदिर में एक दिन में तीन लाख लड्डू प्रसादम् बनता था। इसकी पूरी विधि अलग है और पूरी शुद्धता के साथ इनका निर्माण होता है। रोज लड्डू प्रसादम के निर्माण में तीन हजार किलो काजू लगते हैं। ये देश का एकमात्र मंदिर है, जहां लड्डू प्रसादम् का रोज लैब टेस्ट होता है। टेस्ट के बाद ही प्रसाद भक्तों को दिया जाता है। इतना ही नहीं लॉकडाउन के पहले मंदिर में रोजाना 80 हजार से एक लाख तक श्रद्धालु आते थे। लेकिन, लॉकडाउन खुलने के बाद इस संख्या को अधिकतम 25 हजार तक रखा जाएगा।