मोदी कैबिनेट की बैठक आज, नई शिक्षा नीति पर लग सकती है मुहर

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक होगी. इस बैठक में देश की शिक्षा नीति पर बड़ा फैसला हो सकता है. इस साल फरवरी में जारी किए गए बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नई एजुकेशन पॉलिसी का ऐलान किया था. अगर आज शिक्षा नीति पर मुहर लगती है तो 34 साल बाद देश में नई एजुकेशन पॉलिसी आएगी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे बजट में एजुकेशन सेक्टर को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की थी. वित्त मंत्री ने एजुकेशन सेक्टर को लेकर कहा था कि बहुत जल्द ही देश में नई एजुकेशन पॉलिसी को लाया जाएगा. ऑनलाइन डिग्री लेवल प्रोग्राम चलाए जाएंगेवित्त मंत्री ने बताया था कि इसको लेकर राज्यों से बात चल रही है और जैसे ही इसकी शुरुआती प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, नई एजुकेशन पॉलिसी को पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा था कि एजुकेशन सेक्टर में बेहतर शिक्षकों और अन्य सुविधाओं के लिए बड़े स्तर पर पूंजी जुटाई जाएगी. इसी को ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्री ने एजुकेशन सेक्टर में ​प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) लाने का ऐलान किया था. वित्त मंत्री ने बताया था कि मार्च 2021 तक देशभर में कुल 150 उच्च शैक्षणिक संस्थानों में अपरेंटिसशिप प्रोग्राम शुरू किया जाएगा.

सीतारमण ने कहा था कि पिछड़े वर्ग के युवाओं की उच्च शिक्षा तक पहुंच बढ़ाने के लिए भी काम किया जाएगा. ​गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए डिग्री लेवल ऑनलाइन स्कीम शुरू की जाएगी. वित्त मंत्री ने बताया था कि इसके लिए देश के टॉप 100 संस्थानों में ही यह सुविधा दी जाएगी. साथ ही उन्होंने नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी का भी प्रस्ताव पेश किया था. साथ ही डॉक्टरों की कमी दूर करने के लिए हर जिला अस्पताल के साथ मेडिकल कॉलेज बनेगा.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक होगी. इस बैठक में देश की शिक्षा नीति पर बड़ा फैसला हो सकता है. इस साल फरवरी में जारी किए गए बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नई एजुकेशन पॉलिसी का ऐलान किया था. अगर आज शिक्षा नीति पर मुहर लगती है तो 34 साल बाद देश में नई एजुकेशन पॉलिसी आएगी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे बजट में एजुकेशन सेक्टर को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की थी. वित्त मंत्री ने एजुकेशन सेक्टर को लेकर कहा था कि बहुत जल्द ही देश में नई एजुकेशन पॉलिसी को लाया जाएगा. ऑनलाइन डिग्री लेवल प्रोग्राम चलाए जाएंगेवित्त मंत्री ने बताया था कि इसको लेकर राज्यों से बात चल रही है और जैसे ही इसकी शुरुआती प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, नई एजुकेशन पॉलिसी को पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा था कि एजुकेशन सेक्टर में बेहतर शिक्षकों और अन्य सुविधाओं के लिए बड़े स्तर पर पूंजी जुटाई जाएगी. इसी को ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्री ने एजुकेशन सेक्टर में ​प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) लाने का ऐलान किया था. वित्त मंत्री ने बताया था कि मार्च 2021 तक देशभर में कुल 150 उच्च शैक्षणिक संस्थानों में अपरेंटिसशिप प्रोग्राम शुरू किया जाएगा.

सीतारमण ने कहा था कि पिछड़े वर्ग के युवाओं की उच्च शिक्षा तक पहुंच बढ़ाने के लिए भी काम किया जाएगा. ​गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए डिग्री लेवल ऑनलाइन स्कीम शुरू की जाएगी. वित्त मंत्री ने बताया था कि इसके लिए देश के टॉप 100 संस्थानों में ही यह सुविधा दी जाएगी. साथ ही उन्होंने नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी का भी प्रस्ताव पेश किया था. साथ ही डॉक्टरों की कमी दूर करने के लिए हर जिला अस्पताल के साथ मेडिकल कॉलेज बनेगा.