बारिश से बदला दिल्ली का मौसम, मौसम विभाग के अलर्ट से बढ़ी टेंशन

दिल्ली में बुधवार की सुबह कई इलाकों बारिश हुई जिसके बाद मौसम सुहावना हो गया. हालांकि, अभी भी यहां बादल छाए हुए हैं और मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है.

दिल्ली में बुधवार के बाद गुरुवार की सुबह कुछ हिस्सों में बारिश होने से लोगों को उमस से राहत मिल गई है. हालांकि, अभी भी यहां बादल छाए हुए हैं और मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है. पश्चिमी दिल्ली के इलाकों में सुबह से ही आसमान में अंधेरा छाया हुआ है. मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में बारिश के कारण निचले इलाकों, सड़कों पर जलजमाव हो सकता है और इससे यातायात पर असर पड़ेगा. बिजली आपूर्ति पर भी असर पड़ने का अंदेशा व्यक्त किया गया था.

मौसम विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया, ‘गुरुवार को मानसून का प्रवाह दिल्ली-एनसीआर के पास बना रहेगा. इस दौरान अरब सागर से दक्षिण-पश्चिम की हवाएं और बंगाल की खाड़ी से आने वाली हवाएं हरियाणा, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिमी उत्तरप्रदेश और उत्तरपूर्वी राजस्थान में पहुंचेंगी.’ उन्होंने कहा कि हवा की इस प्रणाली के कारण इन स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होगी.

यूपी में भारी बारिश के आसार

बुधवार को हुई बारिश के कारण राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लोगों को उमस भरे मौसम से राहत मिली लेकिन निचले इलाकों में जल जमाव हो गया जिससे यातायात तथा बिजली एवं पानी की आपूर्ति बाधित हुई. दिल्ली के अलावा उत्तर प्रदेश में अधिकतम स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई है और गुरुवार यानी आज और अधिक बारिश का पूर्वानुमान लगाया गया है.

बंगाल में बाढ़ जैसी स्थिति

पश्चिम बंगाल में भी मॉनसूनी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि उत्तर बंगाल के सभी जिलों में भारी बारिश होगी, इन जिलों में दिन में लगातार भारी बारिश से लोगों को राहत मिली. अत्यधिक बारिश के कारण इन जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है. मौसम विभाग ने कुछ जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है.

केरल में रेड अलर्ट

देश के दक्षिणी हिस्से केरल में खास तौर से एर्णाकुलम एवं कोट्टायम जिलों में मंगलवार की रात से भारी बारिश जारी है. भारतीय मौसम विभाग ने केरल के इडुक्की जिले के लिये रेड अलर्ट जारी किया है और वहां भारी बारिश का अनुमान लगाया गया है. बुधवार को केरल के कुछ हिस्सों में लगातार तेज बारिश हुई जिससे निचले इलाकों में जल जमाव हो गया और इस वजह से रेल एवं सड़क यातायात सेवा आंशिक रूप से प्रभावित हुई.

इस दौरान यहां कोच्चि में व्यस्ततम जोस चौराहा, एम जी रोड एवं अन्य इलाकों में जल जमाव हो गया था. कोट्टायम जिले में भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन के कारण रेल सेवाएं प्रभावित रहीं.

केरल आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि भारी बारिश,भूस्खलन, मिट्टी धंसने, बाढ़ एवं अन्य प्राकृतिक आपदाओं का पूर्वानुमान लगाया गया है और लोगों को चेताया गया है.