AIIMS के डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने ऑडियो टेप लीक में माना- यह सुसाइड नहीं हत्या है

नई दिल्ली: सुशांत सिंह मामले में अब एक नया मोड़ आया है, वो भी तब जब एम्स के डॉक्टरों ने कहा है कि यह यह एक आत्महत्या का मामला है हत्या का नहीं। एम्स के डॉक्टर सुधीर गुप्ता का एक ऑडियो टेप लीक हुआ है जिसमें वह मान रहे हैं कि सुशांत की हत्या हुई थी। यह ऑडियो टेप तब का है जब उन्होंने सुशांत की फोटो देखी थी लेकिन जब जांच हुई तो उन्होंने इसे आत्महत्या माना। ऐसे में लगातार हो रहे विरोधाभास की वजह केस और उलझता जा रहा है। हालांकि डॉ. सुधीर गुप्ता का यह बयान उस समय का है जब वो जांच के लिए गए भी नहीं थे। सुधीर गुप्ता उसी टीम के सदस्य हैं जिन्होंने सुशांत केस की फॉरेंसिंक रिपोर्ट सौंपी थी।

वहीं इस पैनल की रिपोर्ट के बाद, सुशांत का परिवार खुश नहीं है और उसने सीबीआई से आग्रह किया है कि डॉक्टरों का एक नया पैनल इस पूरे मामले को देखे। पैनल ने सीबीआई को फॉरेंसिक रिपोर्ट सौंप दी है अब देखना होगा कि सीबीआई आगे क्या कार्रवाई करती है।

जांच है जारी

हालांकि सीबीआई ने इस पूरे मामले पर अभी कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है और कहा है कि अभी जांच रूकी नहीं है और जांच जारी है। सीबीआई की एसआईटी टीम लगातार मामले की हर एंगल से जांच कर रही है। एम्स की रिपोर्ट के अलावा सीबीआई की टीम साइंटेफिक रिपोर्ट के अलावा तीन रिपोर्ट्स के आधार पर जांच कर रही है जिसमें एम्स के साथ साथ सीफएसएल रिपोर्ट और एफएसएल रिपोर्ट शामिल हैं। ये तीनों रिपोर्ट आत्महत्या की तरफ ही इशारा कर रही हैं। सीबीआई आत्महत्या के लिए उकसाने के एंगल से भी जांच कर रही है।

सुशांत के परिवार की मांग

सुशांत का परिवार का कहना है कि वो एम्स के पैनल की जांच पर विश्वास नहीं करते हैं। अब देखना होगा कि सीबीआई सुशांत के परिवार के आग्रह को मानता है कि नहीं। वहीं मुंबई पुलिस का कहना है कि सीबीआई भी वहीं कह रही है जो हमारी जांच में सामने आया था। इससे पहले सुशांत के परिवार ने बिहार पुलिस औऱ मुंबई पुलिस की जांच में भी विश्वास नहीं दिखाया था और कहा था कि इसकी जांच सीबीआई करे। सीबीआई भी जानती है कि आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में सजा बहुत मुश्किल से मानते हैं। सीबीआई के सूत्रों का कहना है कि वो मीडिया या परिवार के दवाब में कोई भी निर्णय नहीं लिया जाएगा बल्कि वो साइंटिफिक सबूतों के आधार पर जांच करेगी।