घुटने पर बैठना तो पूर्व मुख्यमंत्री भी चाहते हैं…

मध्यप्रदेश के सियासी ड्रामें में 28 विधानसभा उपचुनावों को लेकर भाषणों का घमासान चल पड़ा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तो बकायदा घुटनों के बल बैठकर सार्वजनिक मंचों पर जनता से वोट मंाग रहे हैं। ‘मामा की इस सहजता पर जनता का समर्थन वाला माहौल गजब का है, तालियां भी खूब बज रही हैं। यह भीड़ वोटों में बदल जाये तो क्या कहना। इधर कांग्रेस के एक पूर्व मंत्री नाम नहीं छापने की शर्त पर दबी जुबान से कहते हैं, जनता के सामने घुटने पर बैठकर, हाथ जोड़कर लोकप्रियता हासिल करने में कोई बुराई नहीं है। वे आगे कहते हैं कि कांग्रेस को भी ऐसा ही करना चाहिए। वे दिग्विजय सिंह का नाम लिए बगैर कहते हैं पूर्व मुख्यमंत्री ऐसा कर लें तो कांग्रेस फायदे में रहेगी। उल्लेखनीय है कि उपरोक्त सलाह से संबंधित वाक्या का पूर्व मंत्री पी.सी. शर्मा से कोई संबंध नहीं है। -खबरची