MP में फिर मौसम बदलने के संकेत, प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश होने का अनुमान

ग्वालियर। कोरोना संकट के बीच प्रदेश के कई जिलों पर रुक-रुक कर बरसात का दौर अब भी जारी है। मानसून के सक्रिय होने के चलते कई जिलों में बारिश हो रही है, बता दें कि संक्रमण काल के बीच मानसून विदाई की ओर रुख कर चुका है लेकिन इस बीच प्रदेश में मौसम के बदलाव को लेकर मौसम विभाग द्वारा संकेत मिले हैं कि प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले 24 घंटो में बारिश होने के अनुमान जताए है। आपको बताते चले कि इस अक्टूबर की शुरुआत से ही हल्की सर्दी की दस्तक हो गई, जहां पिछले साल के मुकाबले जल्दी ज्यादा ठंडे तेवर रहने के अनुमान जताए जा रहे हैं।

ग्वालियर-चंबल अंचल में बारिश के आसार :

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को मौसम का मिजाज फिर से बदल गया है, कई जिलों में बादल छा जाने से सुबह ठंडक कम हो गई। वही मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में शिवपुरी, श्योपुर, मुरैना में हलकी बारिश के आसार जताए हैं, जबकि ग्वालियर में बादल छाने के आसार रहे हैं। बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र कमजोर पड़ गया है। इससे पश्चिमी विक्षोभ सक्रीय हो गया है। यह जम्मू कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजर रहा है। इसकी वजह से हवा में नमी आ गई है।

बता दें कि मौसम में बदलाव के साथ बादल छाए रहने और प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश होने के आसार जताए जा रहे हैं। वहीं रात के और ठंडक बनी रहेगी। पश्चिमी विक्षोभ के गुजर जाने के बाद न्यूनतम तापमान में गिरावट आने से रात में ठंडक बढ़ेगी, वहीं दूसरी ओर 28 अक्टूबर को भी अफगानिस्तान के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ विकसित हो गया है। यह नवंबर में भारत से होकर गुजरेगा। इस पश्चिमी विक्षोभ से जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी होगी। उसके बाद शहर सहित अंचल में दिन के तापमान में गिरावट आएगी।