सिरफिरे आशिक ने मां-भाई के सामने मारी थी गोली

फरीदाबाद : देश की राजधानी से सटे फरीदाबाद में सोमवार को एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया। यहां एक सिरफिरे आशिक ने बीकॉम की छात्रा को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया था, जिसका अब सीसीटीवी वीडियो सामने आ गया है। छात्रा परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकली थी, तभी सिरफिरे ने उसे अपनी कार में घसीटने की कोशिश की, जिसका विरोध करने पर उसने छात्रा को वहीं गोली मार दी। गोली लगने के बाद छात्रा का अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी तौफिक को राउंड-अप कर लिया है। फरीदाबाद से पलवल एवं मेवात तक पांच घंटे तक चलाए गए ऑपरेशन में आरोपी को नूंह से गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, बल्लभगढ़ स्थित मिल्क प्लांंट रोड स्थित अग्रवाल कालेज के बाहर एक तरफा प्यार में युवक ने बीकॉम सैकेंंड ईयर की छात्रा को दिनदहाड़े कार सवार युुवक ने गोली मार दी। कॉलेज से पेपर देकर बाहर निकली छात्रा की गोली लगने से मौत हो गई। हमलावर अपने साथी के साथ कार में सवार होकर आया था।

मूलरूप से हापुड़ के रहने वाले मूलचंद तोमर ने बताया कि वह सैक्टर-23 के पास सोसायटी में रहते हैं। उनकी बेटी निकिता का आज अग्रवाल कालेज में सेकेंड ईयर की परीक्षा देने गई थी। उनके मुताबिक रोजका मेव निवासी तौफिक नाम का युवक 12वीं कक्षा तक निकिता के साथ पढ़ा था। वह उस पर दोस्ती के लिए दबाव डालता था, मगर उसने इसके लिए साफ इनकार कर दिया था। उसने साल 2018 में आरोपित ने छात्रा का अपहरण भी किया था, मगर तब लोकलाज के चलते परिवार ने समझौता कर लिया था।

पुलिस ने छात्रा के भाई नवीन की शिकायत पर तौफिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। नवीन ने बताया कि सोमवार को निकिता परीक्षा देने के लिए कॉलेज गई थी। मां विजयवती और भाई नवीन कालेज के बाहर इसका इंतजार कर रहे थे। शाम करीब 4 बजे वह परीक्षा देकर बाहर आई। कालेज गेट से थोड़ा आगे एक आइ-20 कार आकर उसके पास रुकी। उसमें से तौफिक निकला। उसने निकिता को कार में खींचने का प्रयास किया। तभी तौफिक ने उसकी मां और भाई को देखा। उसने कट्टा निकालकर निकिता के ऊपर गोली चला दी, जो उसके कंधे में लगी। गोली लगने पर वह लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़ी। आरोपित अपने साथी संग कार में बैठकर फरार हो गया। मां और भाई ने निकिता को अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।