मप्र में लव जिहाद रोकने बनेगा कानून: नरोत्तम

राष्ट्रीय हिन्दी मेल टीम
खास रिपोर्ट

भोपाल, 17 नवंबर। मध्यप्रदेश में लव जिहाद को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रदेश में लगातार सामने आ रहे लव जिहाद के मामलों को रोकने के लिए सरकार कानून लाएगी। सरकार इसे लेकर धर्म स्वातंत्र्य कानून बना रही है। इसके लिए आगामी विधानसभा सत्र में विधेयक लाया जाएगा। कानून लाए जाने के बाद गैर जमानती धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जाएगा और 5 साल की कठोरतम सजा दी जाएगी। इसमें बहकाना, प्रलोभन देना और डराना-धमकाना अपराध होगा।
सहयोग करने वाले भी होंगे मुख्य आरोपी
नरोत्तम मिश्रा ने लव जिहाद कानून को लेकर कहा कि इसके तहत गैर जमानती धाराओं में केस दर्ज किया जाएगा और 5 साल तक की सजा का प्रावधान रहेगा। उन्होंने कहा कि लव जिहाद जैसे मामलों में सहयोग करने वालों को भी मुख्य आरोपी बनाया जाएगा। उन्हें अपराधी मानते हुए मुख्य आरोपी की तरह ही सजा होगी। वहीं उन्होंने कहा कि शादी के लिए धर्मांतरण कराने वालों को भी सजा देने का प्रावधान इस कानून में रहेगा।
कलेक्टर को एक महीने पहले आवेदन जरूरी
स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन के लिए एक महीने पहले आवेदन देना होगा। कई मामलों में देखा गया है कि युवतियां स्वेच्छा से धर्मांतरण कर शादी करना चाहती हंै। ऐसे मामलों को देखते हुए कानून में यह भी प्रावधान होगा कि अगर कोई स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन शादी के लिए करना चाहता है, तो उसे एक महीने पहले कलेक्टर के यहां आवेदन देना होगा। धर्मांतरण कर शादी करने के लिए कलेक्टर के यहां यह आवेदन देना अनिवार्य होगा और बिना आवेदन के अगर धर्मांतरण किया गया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जबरन धर्मांतरण रुकेगा: वीडी शर्मा
मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लव जिहाद रोकने के लिए बनाए जा रहे कानून को लेकर वीडी शर्मा ने कहा कि बलात्कारियों को फांसी की सजा का प्रावधान करने वाला देश में पहला विधेयक शिवराज सरकार ने विधानसभा में पारित कराया और अब लव जिहाद को लेकर सरकार द्वारा कानून बनाना स्वागत योग्य है। उन्होंने कहा कि प्यार के जाल में फंसा कर धर्मांतरण करना यह गंभीर विषय है। इस कानून से चंगुल में फंसी बेटियों को फायदा मिलेगा और जबरन धर्मांतरण की घटनाओं पर रोक लगेगाी।

पीसी शर्मा ने बताया भाजपा का चुनावी एजेंडा
गृह मंत्री के इस बयान पर पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने कहा है कि पहले विधानसभा सत्र बुलाएं और स्पीकर का चुनाव कराएं, फिर विधेयक लाएं और उस पर बहस हो, वैसे भी प्रेम ईश्वर की देन है, ये कानून से परे है और बाकी सभी बातें बाबा साहब ने संविधान में लिख दीं हैं, कांग्रेस का आरोप है कि ये सब चुनावी राजनीति का एजेंडा है।

केंद्रीय मंत्री तोमर ने किया लव जिहाद कानून का स्वागत
भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लव जिहाद कानून का स्वागत किया है, मध्य प्रदेश में उपचुनाव जीतने के बाद केंद्रीय मंत्रीने कहा कि मध्य प्रदेश में स्थाई सरकार है, इसकी वजह से प्रदेश में विकास की गति बढ़ेगी, साथ ही उन्होंने कहा, मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार में जो विकास की गति रुकी थी, वो अब आगे बढ़ेगी, सीएम शिवराज के नेतृत्व में सभी अधूरे काम पूरे किए जाएंगे, वहीं उन्होंने 2023 में होने वाले चुनाव को लेकर कहा कि अभी चुनाव का वक्त लंबा है, इतनी जल्दी कुछ कहना जल्दबाजी होगी। केंद्रीय मंत्री ने सिंधिया समर्थक और बीजेपी कार्यकर्ताओं में असंतोष की स्थिति को लेकर कहा कि पार्टी में कोई किसी का समर्थक नहीं है, सभी बीजेपी के कार्यकर्ता हैं और ये पार्टी सामूहिक नेतृत्व वाली पार्टी है, जो लोग सिंधिया के साथ आए हैं, वो भी बीजेपी के कार्यकर्ता हैं, सभी मिलकर काम करेंगे, पार्टी को मजबूत बनाएंगे।