पिछली बार रह गए थे, इस बार जरूर बनेंगे मंत्री

पिछली बार जब मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने परम मित्र रामपाल सिंह को मंत्रिमंडल में शामिल करना चाहते थे। लेकिन संगठन और पार्टी स्तर से दबाव आने के कारण वे ऐसा नहीं कर पाए। लेकिन इस बार जब मंत्रिमंडल का विस्तार होगा तो उसमें रामपाल सिंह का नाम तय है। जिसे लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पार्टी और संगठन दोनों से चर्चा कर ली है और वहां से हरी झंडी मिल चुकी है। बताते हंै कि रामपाल सिंह ने सांची विधानसभा सीट से डॉक्टर प्रभुराम चौधरी को जिताने के लिए जो मेहनत की है, उसका संदेश भोपाल से लेकर दिल्ली तक है। इसलिए रामपाल सिंह का इस बार मंत्री बनना पक्का है…! -खबरची