ऊर्जा मंत्री द्वारा सामाजिक सदभाव की एक अनूठी पहल

मंत्री श्री तोमर ने बाल्मीक समाज की बुजुर्ग महिला के घर बैठकर खाया खाना
क्षेत्र भ्रमण के दौरान ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने सुनी आमजन की समस्यायें 

भोपाल : ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने क्षेत्र में भ्रमण के दौरान बाल्मीक समाज की बुजुर्ग महिला के पैर छूकर खाना मांगकर खाया और सामाजिक सदभाव की एक अनूठी पहल कर समाज में सामाजिक समरसता का संदेश दिया। जिससे ऐसे लोगों को सीख लेनी चाहिए जो कि जाति व धर्म के नाम पर लोगों को एक दूसरे के खिलाफ लडाते हैं।

भोपाल से लौटने के बाद सुबह क्षेत्र भ्रमण पर निकले ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने क्षेत्र में कराये जा रहे विकास कार्यों को देखा। साथ ही आमजन से उनकी समस्यायें सुनी। क्षेत्र भ्रमण के दौरान मंत्री श्री तोमर ने बाल्मीक समाज की बुजुर्ग महिला के घर पर पहुँचे, वहाँ उन्होंने कहा कि माताजी सुबह से निकला हूँ, भूख लगी है। खाने को कुछ बनाया हो तो ले आओ, इस पर बुजुर्ग माँ, मंत्री श्री तोमर के लिए खाना लेकर आई और मंत्री श्री तोमर ने घर के बाहर गेट पर बैठकर ही खाना खाया और कहा माता जी आपको किसी प्रकार की समस्या हो तो बतायें। इस पर बुजुर्ग माँ ने कहा कि उनको विधवा पेंशन नही मिलती है, उस माँ की समस्या सुन मंत्री श्री तोमर ने तुरंत संबंधित अधिकारियों से चर्चा कर माता को पेंशन शीघ्र दिलाये जाने के लिए निर्देशित किया। 

गदाईपुरा वार्ड 15 के श्रीकृष्ण नगर में आमजन की समस्यायें सुनी तथा उन समस्याओं के निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को मौके से ही दूरभाष पर चर्चा कर तुरंत निराकरण के लिए बोला। उन्होने क्षेत्र में कराये जा रहे विभिन्न विकास कार्यों को भी देखा, जो कार्य अधूरे थे उनके लिए अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि क्षेत्र के विकास में किसी भी कार्य को लेट न किया जाये, समय पर कार्य पूर्ण किया जाये साथ ही कार्य गुणवत्ता पूर्ण होना चाहीए। 

ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने जेएएच हॉस्पिटल का निरीक्षण करते हुए कहा कि यहाँ आने वाले किसी भी मरीज को किसी भी प्रकार की परेशानी नही होनी चाहिए। साफ सफाई की उचित व्यवस्था की जाये, यहां आने वाले नागरिकों को समय पर इलाज मिले इसके लिए डॉक्टर की ड्यूटी रोटेशन से लगायें। मंत्री श्री तोमर ने अस्पताल में भर्ती मरीजों से भी चर्चा कर अस्पताल की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। इस अवसर पर जेएएच के अधीक्षक डॉ. आर.के.एस. धाकड़ सहित अन्य डॉक्टर उपस्थित रहे।