जरूरत से अधिक सामग्री की खरीदी नहीं करें – ऊर्जा मंत्री श्री तोमर

भोपाल : विद्युत वितरण कम्पनी जरूरत से अधिक ट्रांसफार्मर, मीटर और अन्य विद्युत संबंधी सामग्रियों की खरीदी नहीं करें। सामग्री खरीदने के पहले पूरा आकलन किया जाये। सामग्रियों की खरीदी के संबंध में स्पष्ट नीति बनाई जायें। ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने यह निर्देश मंत्रालय में पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के कार्यों की समीक्षा के दौरान दिये।

ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने कहा कि कहीं भी किसानों को 10 घण्टें से कम विद्युत आपूर्ति नहीं की जाये। जहाँ इससे कम हुई हो वहाँ की जाँच कर कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि ऊर्जा विभाग की खाली पड़ी भूमि के उपयोग की प्लानिंग करे।

मीटर रीडर को बदलते रहें

ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने कहा कि मीटर रीडर को निर्धारित समय अंतराल में बदलते रहें। अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही पर तुरंत कार्यवाही करें। आउटसोर्स कर्मचारियों की ट्रेनिंग करवायें और उन्हें प्रमाण-पत्र भी दें। एमडी श्री किरण गोपाल ने बताया कि ट्रेनिंग का कार्यक्रम तैयार कर लिया गया है। आईटीआई के माध्यम से ट्रेनिंग दिलवाई जायेगी।

बड़े बकायदारों के विरूद्ध करें कार्यवाही

मंत्री श्री तोमर ने कहा कि राजस्व संग्रहण के कार्य में तेजी लायें। उन्होंने कहा कि सर्वप्रथम बड़े बकायदारों के विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि लाइन लॉसेस कम करने के लिये सुनियोजित कार्य-योजना बनाएँ। ट्रिपिंग कम से कम हो।

माह में हो अधिकतम दो मीटिंग

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि महीने में दो से अधिक मीटिंग नहीं होनी चाहिए, जिससे अधिकारियों को निरीक्षण का पर्याप्त समय मिल सकें। सभी अधिकारी नियमित रूप से क्षेत्र में भ्रमण करें। सब-स्टेशन में रजिस्टर रखा जाए और उसमें भ्रमण करने वाला अधिकारी टीप अनिवार्य रूप से दर्ज करें।

श्री तोमर ने कहा कि स्मार्ट मीटर लगाए जाने की कार्य-योजना इस तरह से बनाए कि तीनों कम्पनियों में एकरूपता रहे। उन्होंने कहा कि अच्छा कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को प्रोत्साहित करें। इन्हें 31 मार्च के बाद सम्मानित किया जायेगा। कार्यालयों को साफ-सुथरा रखें। ऊर्जा मंत्री ने सागर डिवीजन में किये गये नवाचारों की सराहना की।

बैठक में प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे, सीएमडी श्री आकाश त्रिपाठी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।