39 C
Bhopal
Friday, May 24, 2019
साहित्य

साहित्य

आखिर देश में कैसे होगा महिलाओं का विकास ?

रमेश सर्राफ धमोरा हर वर्ष की तरह इस बार भी महिला दिवस गुजर गया। महिला दिवस...

लोकतंत्र के महापर्व का बज गया बिगुल

राजेश माहेश्वरी लोकतंत्र के महापर्व का बिगुल बज गया है। 11 अप्रैल से शुरू होकर 19 मई...

हरियाणा इनेलो में विरासत की बिसात

कभी भारत की शीर्ष राजनीति के पुरोधा रहे एवं प्रधानमंत्री के ताज को अपने सिर पर न रखकर वी पी सिंह को कुर्सी सौंपने...

कौन है हिंसा की चिन्गारी को सुलगाने का जिम्मेदार ?

प्रसंगवश: राजेश सिरोठिया एससी-एसटी एक्ट के तहत आरोपी को बगैर जांच के गिरफ्तारी करने पर लगाई गई रोक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ...

राजनीतिक उथल-पुथल का दौर पूरे वर्ष चलता रहा

राजनीतिक उथल- पुथल का दौर पूरे वर्ष चलता रहा जहां लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत सत्ता परिवर्तन के इस दौर में जो दल कभी पीछे...

कुछ पाया तो कुछ खोया भी

सरोकार साल 2017 जा रहा है और 21वीं सदी के अठारहवें साल का आगाज हो रहा है। वैसे तो यह साल बहुत कुछ देकर जा...

वक्त आने पर फैसले से चौंका सकते हैं नीतीश

बैर के कारण उत्पन्न होने वाली आग एक पक्ष को स्वाहा किए बिना कभी शांत नहीं होती। वेदव्यास राजनीति वर्ष 2017 में तीन घटनाओं का सबसे अधिक...

समाज की मुख्यधारा में शामिल नहीं हैं देश के 9 करोड़ बच्चे

सम्पादकीय कहा जाता है कि शिक्षा किसी भी समाज के विकास का मुख्य आधार होती है, लेकिन भारतीय शासन और सत्ता तंत्र सालों से इस...

राजनीति में अभद्र

सरोकार राजनीति में पक्ष और विपक्ष द्वारा एक-दूसरे पर कटाक्ष किया जाना कोई नई बात नहीं है हां दोनों एक-दूसरे पर कोई कटाक्ष न करे...

हेमंत शिशिर ऋतु आहार, विहार बचाव

सेहत डॉ.अरविन्द जैन मानव शरीर व प्रकृति दोनों में साम्यता हैं। प्रकृति असंतुलित होती हैं तो उसका प्रभाव मानव ,जीव जंतुओं ,आहार ,विहार ,विचार पर पड़ता...