22 C
Bhopal
Wednesday, September 19, 2018
आज का विचार

आज का विचार

जरूरी विमर्श के दायरे में दलित

कांशीराम अपने राजनीतिक संदर्भ में दलित शब्द का प्रयोग कम से कम करते थे। इसके बजाय वह बहुजन शब्द का ज्यादा इस्तेमाल करते थे।...

125 वर्ष बाद भी विवेकानंद के विचारों को स्वीकारने की जरूरत

शिशिर बड़कुल वर्तमान समय में विवेकानंद के संदेश को सबसे अधिक समझने एवं स्वीकार करने की जरूरत है। सदैव दूसरों की आस्था का सम्मान करते...

अभी और बढ़ेंगे तेल के दाम

सौरभ चंद लगातार बढ़ रहे डीजल तथा पेट्रोल के दाम एक बार फिर सुर्खियों में हैं। आम जनता चिंतित भी है और परेशान भी। आखिर...

लोहागर्ल, जहां पांडवों के हथियार गले थे

रमेश सर्राफ हमारा देश एक धर्म प्रधान देश है, जहां अनेकानेक तीर्थ स्थल हैं तथा इन सबकी अपनी अपनी पृष्टभूमि व महत्ता हैं। राजस्थान के...

विकास का आधार स्तम्भ हैं सड़कें विकास का आधार स्तम्भ हैं सड़कें 

निलय श्रीवास्तव किसी भी प्रदेश और समाज के रहन-सहन, तौर तरीकों से ही राज्य की वास्तविक स्थिति का आंकलन होता है । वहाँ रोजगार-उद्योग की...

चुनौतियों के बीच बेहतरी की झलक

सुषमा रामचंद्रन जीडीपी के ताजा आंकड़े घने बादलों के बीच एक उजली किरण की तरह नजर आते हैं। पिछले हफ्ते देश की अर्थव्यवस्था को लेकर...

व्यक्तित्व निर्माण और शिक्षक की भूमिका

कृपाशंकर तिवारी शिक्षा, विकास का मूल आधार है। शिक्षा लोकमंगल का माध्यम है और शिक्षक उसके संवाहक / लोकमंगल की व्याख्या व्यापक है। नि:संदेह, शिक्षा...

राष्ट्रीय एकता का प्रतीक है गोगामेड़ी मंदिर

रमेश सर्राफ राष्ट्रीय एकता व सांप्रदायिक सद़भावना के प्रतीक गोगाजी राजस्थान के लोक देवता हैं। गोगाजी को जहरवीर गोगा जी के नाम से भी जाना...

राहुल गांधी ने कुरेद दिए पुराने जख्म

भवदीप कांग हैरानी है कि 1984 के दंगों में सत्ता द्वारा प्रायोजित हमलों के साक्ष्य के बावजूद राहुल गांधी को अपनी पार्टी की भूमिका...

समाजवादी पार्टी में फिर मची उथल- पुथल

प्रभुनाथ शुक्ल लोहिया के समाजवाद को मुलायम सिंह यादव संजो नहीं पाए। दो साल पूर्व सत्ता को लेकर परिवारवाद की जंग की वजह से सुलगता...

Latest Posts