सुप्रीम कोर्ट में दोबारा खुलेगा आरुषी-हेमराज मर्डर केस

    नई दिल्ली: राजेश तलवार और नूपूर तलवार को बरी करने के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले की छानबीन सुप्रीम कोर्ट करेगा। सुप्रीम कोर्ट तय करेगा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला सही है या नहीं। सुप्रीम कोर्ट ने हेमराज की पत्नी खुमकला बेंजाडे की याचिका मंजूर की। बेंचाडे ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को दी है चुनौती। सीबीआई ने भी दाखिल की है याचिका लेकिन उसमें कुछ खामियां हैं। इसका मतलब है कि इस केस की सुनवाई में वक्त लगेगा। पिछले साल दिसंबर में तलवार दंपति को बरी करने के फैसले के खिलाफ हेमराज की पत्नी ने  भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। हेमराज की पत्नी खुमकला बेंजाडे ने याचिका में कहा है कि इस बारे में हाईकोर्ट का फैसला गलत है क्योंकि हाईकोर्ट ने इसे हत्या तो माना है लेकिन किसी को दोषी नहीं ठहराया।