चल समारोह में गोमटेश बाहुबली की झांकी रही प्रथम

सागर, 31 मार्च। भगवान महावीर स्वामी के जन्म कल्याणक के उपलक्ष्य में निकाली गई श्रीजी की विमान शोभायात्रा चल समारोह में शामिल झांकियो में से तीन आकर्षक झांकियो को सम्मानित किया गया। वहीं भगवान महावीर स्वामी जन्म जयंती समारोह समिति द्वाराचल समारोह में शामिल 19 झांकियो को सांत्वना पुरस्कार दिए गए।
गौराबाई दिगम्बर जैन मंदिर प्रांगण में गुरूवार की सायंकाल आयोजित कार्यक्रम में आदिनाथ विधान मंडल के द्वारा चल समारोह में शामिल गोमटेश बाहुबली भगवान की झांकी को प्रथम पुरस्कार स्वरूप 61 रूपए नगद प्रदान किए गए। वहीं हथकरघा पर केंद्रित झांकी को द्वितीय पुरस्कार के रूप में 41 रूपए और मूक प्राणियो पर केंद्रित बूचडखाना झांकी को तृतीय पुरस्कार के रूप में 31 रूपए प्रदान किए गए। वहीं चल समारोह में शामिल 19 झांकियो को 21-21 सौ रूपए समिति द्वारा सांत्वना पुरस्कार के रूप में दिए गए। निर्णायक मंडल में ऋषभ समैया, श्रीमती रश्मि जैन ऋतु और सविता लोहिया शामिल थी। सायंकाल भजन गायक रूपेश जैन की संगीत निशा के दौरान मंच से संतोष घडी, कैलाश सिंघई, राकेश चगााजी, कमलकांत चौधरी, पदमचंद मगरधा, अनिल नैनधरा, सुनील पडवार ,सुनील सेसई द्वारा झांकी समितियो को सम्मानित किया गया। रूपेश जैन ने नए एवं पुराने भजनो की प्रस्तुति संगीत निशा के माध्यम से दी।
महावीर जयंती के उपलक्ष्य में महिला परिषद की चंद्रप्रभु शाखा द्वारा चल समारोह में आकर्षक झांकी शामिल की गई। शोभायात्रा में श्रद्धालुओं को महिला परिषद द्वारा ड्राई फू्रट वितरित किए गए। शाखा द्वारा सायंकाल पालना झुलाओ कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें शाखा अध्यक्ष मुक्ता जैन, सचिव मंजरी जैन, कोषाध्यक्ष शिवानी सिंघई, निशा जैन, चेतना जैन, मिल्की जैन, सुषमा, प्रतिभा, अरूणा, सरिता, बिंदू, सरेाज सिंधई आदि उपस्थित थी।
शाखा अध्यक्ष के द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कस्तूरचंद जैन का आभार व्यक्त किया गया।