साहब सोमवार को…

हाल ही में प्रशासनिक फेरबदल में कई आईएएस अफसरों की कलेक्टरी भी चली गई है। इन तबादलों में चुनाव आयोग की टेढ़ी नजर का असर दिखा तो कहीं सरकार से सीधी नाराजगी लेनी भारी पड़ गई, लेकिन एक जनाब ऐसे भी हैं, जिनके हाथ से सरकार ने कलेक्टरी तो छीन ली, लेकिन लगे हाथ एक मलाईदार और घूमने-फिरने वाले विभाग की कमान सौंप दी, लेकिन साहब हैं कि उन्हें यह पद पसंद ही नहीं आ रहा है, लिहाजा एक सप्ताह बाद भी विभाग के लोग इंतजार कर रहे हैं और साहब नदारद हैं। मंत्री से लेकर संतरी तक सबका एक ही रटा-रटाया जवाब सुनने को मिल रहा है, साहब सोमवार को आएंगे, देखते हैं सोमवार भी जल्द ही आने वाला है। … खबरची