मैं भी दूसरे क्रिकेटर की तरह नीली जर्सी पहनना चाहता हूं : अश्विन

नई दिल्ली, 30 जून। एक समय ऐसा भी था जब भारतीय क्रिकेट टीम रविचंद्रन अश्विन के भरोसे थी। पर अब ऐसा वक्त भी आ गया कि टीम मैनेजमेंट इनकी जरूरत नहीं समझ रहा और यह गेंदबाज वनडे क्रिकेट में वापसी के लिए तरस रहा है। अश्विन ने तमिलनाडु प्रीमियर लीग की अपनी टीम ‘डिंडीगुल ड्रैगन्सÓ को पेश किए जाने के दौरान इच्छा जाहिर करते कहा कि वह भी अन्य क्रिकेटरों की तरह नीली जर्सी पहनना चाहते हैं। अश्विन ने कहा, इंडिया के लिए विश्वकप खेलना चाहता हूं। हालांकि यह चीज अब मेरे हाथ में नहीं है, बल्कि इस चीज के ऊपर निर्भर करता है कि टीम मैनेजमेंट मेरे खेल के बारे में क्या सोचते हैं। मैं इस समय सिर्फ खेल का आनंद उठा रहा हूं और अगर मुझे मौका दिया जाता है, तो मैं सकारात्मक रहते हुए उस मौके का फायदा उठाना चाहूंगा।
विंडीज के खिलाफ खेला था आखिरी वनडे
बता दें कि अश्विन ने आखिरी वनडे पिछले साल 30 जून को विंडीज के खिलाफ खेला था। इसके बाद युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को टीम में जगह मिली। इन दोनों ने खुद को साबित किया और अश्विन का टीम में वापसी करना मुश्किल हो गया। हालांकि उन्होंने टेस्ट में ज्यादातर मौके मिलते रहे लेकिन टीम मैनेजमेंट ने उन्हें वनडे से बाहर कर दिया। भारतीय टीम इस समय इंग्लैंड दौरे पर गई हुई है और इस अहम सीरीज को लेकर अश्विन ने कहा, इंग्लैंड की एकदिवसीय टीम काफी मजबूत है और इस सीरीज में काफी रन बनने के आसार है। हालांकि मेरे हिसाब से भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह का रोल इस दौरान काफी अहम होने वाला है। 3 मैचों की एकदिवसीय और टेस्ट सीरीज के बाद भारत को इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलने वाली है और अश्विन ने साफ कर दिया कि इस सीरीज में स्पिनर्स अहम रोल निभा सकते हैं।