चंबल एक्सप्रेस-वे से खुलेंगे चंबल के विकास के नए द्वार : शिवराज

भिंड/मुरैना, 30 जुलाई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जो भिंड, मुरैना कभी डकैतों के आतंक के लिए जाना जाता था। उसे हमने आतंक से मुक्त करके भय का वातावरण समाप्त कर दिया है। अब चंबल एक्सप्रेस वे जैसे परियोजनाओं से इस अंचल के विकास के नए द्वार खुलेंगे। भाजपा की सरकार चंबल के क्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। हाल ही में सिंचाई परियोजना का क्रियान्वयन इसका एक बड़ा उदाहरण है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यह बात चंबल संभाग के भिंड और मुरैना जिले के परा, चैमो, गोरमी, पोरसा, अंबाह और दिमनी में जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कही। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा रविवार को भिण्ड जिले के अटेर विधानसभा क्षेत्र के परा से प्रारंभ हुई।
यात्रा मार्ग पर जगह-जगह अपार जनसमर्थन उमड़ा था और मुख्यमंत्री का अभूतपूर्व स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर दतिया से मुरैना तक यात्रा में मुख्यमंत्री के साथ रहे। मुख्यमंत्री के साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व सांसद प्रभात झा भी रहे। यात्रा के भिंड पहुंचने पर सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद, चंबल यात्रा प्रभारी वेदप्रकाश शर्मा, डॉ. अरविंद भदौरिया, मुकेश चैधरी, जिला अध्यक्ष संजीव कांकर, राकेश चौधरी, पूर्व विधायक राकेश शुक्ला, श्रीमती ममता भदौरिया सहित जिला पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधियों ने भव्य स्वागत किया।
यात्रा के मुरैना पहुंचने पर सांसद अनूप मिश्रा, प्रदेश महामंत्री विष्णुदत्त शर्मा, महापौर अशोक अर्गल, जिला अध्यक्ष अनूप भदौरिया, विधायक सतपाल भदौरिया ने यात्रा का भव्य स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पोरसा में जनसभा को संबोधित किया।
भिंड में होगी सैन्य स्कूल की स्थापना
मुख्यमंत्री चौहान ने अटेर में जनसभा में कहा कि चंबल की इस माटी से भारत माता की सेवा करने के लिए जवान निकले हैं। शूरवीरों की इस धरा से नौजवान भारत माता की सेवा में और आगे बढ़ें, इसके लिए भिंड जिले में सैन्य स्कूल की स्थापना जल्द होगी। चौहान ने कहा कि पहले जो भिंड, मुरैना डकैतों के आतंक से भयभीत था। अब उन बीहड़ों में डकैत नहीं हैं। कांग्रेस के समय यह क्षेत्र डाकुओं के आतंक से त्रस्त था। भाजपा सरकार ने आते ही सारे डकैत गिरोह का सफाया कर दिया। अब बीहड़ में चंबल एक्सप्रेस-वे से विकास का नया मार्ग खुलेगा। चंबल के विकास में भाजपा सरकार कोई कमी नहीं रखेगी। चंबल क्षेत्र को पानी देने के लिए 2245 करोड़ की सिंध बहुउद्देशीय परियोजना को स्वीकृति दी गई।
14 अगस्त को पूरे प्रदेश में शहीद सम्मान यात्राएं
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के शहीदों के सम्मान के लिए सरकार आगामी 14 अगस्त को पूरे प्रदेश में शहीद सम्मान यात्राएं निकालेगी। इन यात्राओं वे स्वयं, केंद्रीय मंत्री, सांसद, विधायक, समाजसेवी और अन्य जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। यात्राएं प्रदेश के हर शहीद के गांव पहुंचेंगी और वहां शहीद के परिवार का सम्मान किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र की जनता ने जो प्यार जताया है, जो भरोसा दिखाया है, मैं संकल्प लेता हूं कि इस भरोसे को टूटने नहीं दूंगा। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस शासन के दिनों को याद करते हुए कहा कि उस समय डाकुओं की वजह से चंबल की घाटियां आतंक की पर्याय बनी हुई थीं। भाजपा सरकार ने चुनौती मानकर डाकुओं के आतंक को खत्म किया। कोटा से आने वाला चंबल नहर का पानी भिंड जिले तक पहुंच ही नहीं पाता था। लेकिन भाजपा सरकार ने नहरों के टेल एरिया तक पानी पहुंचाया। उन्होंने कहा कि चंबल एक्सप्रेस-वे को लेकर केंद्र सरकार से चर्चा हुई है और जल्द ही इसका काम शुरू हो जाएगा। इसके बन जाने से भिंड, मुरैना और श्योपुर तथा समूचे चंबल क्षेत्र के विकास के द्वार खुल जाएंगे। सिंध नदी पर बांध परियोजना का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 2247 करोड़ की इस परियोजना से भिंड जिले और चंबल क्षेत्र के अन्य जिलों को भी लाभ होगा।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा 1 एवं 2 अगस्त को अनूपपुर, कटनी एवं शहडोल जिलों में रहेगी।